मरच्यूरी में लाश रखने आरक्षक ने मांगे 3 हजार रुपये, ट्रैक्टर में ही शव रख गुजारी रात

धमतरी (Dhamtari) जिले के नगरी थाना के एक आरक्षक (Constable) पर गंभीर आरोप लगे हैं.

Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: August 19, 2019, 6:33 PM IST
मरच्यूरी में लाश रखने आरक्षक ने मांगे 3 हजार रुपये, ट्रैक्टर में ही शव रख गुजारी रात
छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में रिश्वतखोरी का एक घिनौना मामला सामने आया है.
Abhishek Pandey | News18 Chhattisgarh
Updated: August 19, 2019, 6:33 PM IST
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के धमतरी जिले में रिश्वतखोरी (Bribery) का एक घिनौना मामला सामने आया है. मरच्यूरी में शव रखने के एवज में आरक्षक (Constable) द्वारा 3 हजार रुपये रिश्वत मांगने का आरोप लगा है. रिश्वत देने में असक्षम मृतक के परिजनों को मजबूरन शव ट्रैक्टर में रखकर ही रात गुजारनी पड़ी. पुलिस (Police) ने आरोपी आरक्षक के खिलाफ जांच कर मामले में कार्रवाई की बात कही है.

धमतरी (Dhamtari) जिले के नगरी थाना के एक आरक्षक (Constable) पर गंभीर आरोप लगे हैं. आरोप लाश को मरच्यूरी में रखने के एवज में 3000 रुपये मांगने के हैं. दरअसल मेचका गांव के एक व्यक्ति ने अज्ञात कारणों से फांसी लगा कर आत्महत्या (Suicide) कर ली. उसकी लाश को परिजनों ने ट्रैक्टर के जरिये पोस्टमार्टम के लिए नगरी लाया, लेकिन तब तक रात हो चुकी थी. परिजन ऐसे में लाश को मरच्यूरी में रखना चाहते थे.

कार्रवाई का आश्वासन
मृतक के परिजनों के मुताबिक आरक्षक कान्तु राम ठाकुर ने मरच्यूरी में शव रखवाने के एवज में 3000 रुपयों की मांग की. परिजन रुपये देने में सक्षम नहीं थे. लिहाजा लाश को रात भर ट्रैक्टर ट्राली में ही रखना पड़ा. धमतरी एसपी बालाजी राव ने इस मामले में जांच के बाद कार्रवाई की बात कही है. एसपी बालाजी राव ने कहा कि ​आरक्षक के खिलाफ शिकायत मिलने के बाद जांच की जा रही है. जांच रिपार्ट मिलते ही कार्रवाई की जाएगी. साथ ही मृतक की आत्महत्या मामले में भी मर्ग कायम कर जांच की बात कही जा रही है.

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में यहां दर्ज हुआ तीन तलाक का पहला मामला, गर्भवति है पीड़ित महिला 

ये भी पढ़ें: CM भूपेश बघेल के साथ बैठक करेंगे अमित शाह, नक्सल समस्या पर निकल सकता है हल 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धमतरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 19, 2019, 6:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...