बुलेट से 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा कर रहा 70+ का बुजुर्ग दंपत्ति, रोजाना चलाते हैं 250km बाइक
Dhamtari News in Hindi

बुलेट से 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा कर रहा 70+ का बुजुर्ग दंपत्ति, रोजाना चलाते हैं 250km बाइक
चौहान दंपत्ति बुलेट पर ही 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा पर निकल पड़े हैं

कहते हैं कि जवानी उम्र से नहीं जज्बे से होती है, इसकी मिसाल देखने को मिली गुजरात के 70 पार चौहान दंपत्ति में, जो गुजरात (Gujrat) से अपनी बाइक से ही 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा पर निकल पड़े हैं. जब ये 'जवां जोड़ा' धमतरी पहुंचा, तो दिखा कि जिंदगी चलते रहने का नाम है.

  • Share this:
धमतरी. ओएनजीसी से रिटायर्ड कर्मचारी 76 वर्षीय मोहन लाल पोपटलाल चौहान अपनी पत्नी लीलाबेन चौहान (उम्र 70 साल) के साथ अपनी एनफिल्ड बुलेट 350 पर सवार होकर निकल पड़े हैं. लीलाबेन साइड कार (फिल्म शोले वाली) में रंगीन चश्मे के साथ, इन्हें देखकर लगेगा कि ये लोग इस उम्र में बाइक (Bike) पर कहां निकल पड़े. ये भी लग सकता है कि शायद किसी मजबूरी के कारण बुढ़ापे में इन्हें ये तकलीफ झेलनी पड़ रही होगी, लेकिन मसला दरअसल इसके ठीक उलट है. ये कपल देखने में बुजुर्ग लग सकते हैं, उम्र के तकाजे से भी इन्हें ओल्ड कपल ही कहा जाएगा, लेकिन जब इनसे बात करेंगे, इनके सफर की कहानी सुनेंगे तो अच्छे-अच्छे जवान लोगों के पसीने छूट जाएंगे.

12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा पर हैं चौहान दंपत्ति
चौहान दंपत्ति ने बताया कि वो 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा कर रहे हैं. फिलहाल दक्षिण भारत के श्री सेलम जा रहे हैं. इसके बाद कन्याकुमारी, गोवा, महाराष्ट्र होते हुए गुजरात वापसी करेंगे. मोहनलाल 1993 में ओनजीसी से रिटायर्ड हुए थे. उनका बेटा विदेश में सैटल्ड है. बेटी की भी शादी हो चुकी है. आर्थिक रूप से सक्षम होते हुए भी वो हवाई या रेल मार्ग से सफर नहीं करते, क्योंकि उन्हें बुलेट पर अपनी हमसफर के साथ मस्ती करते हुए चलने में जिदगी का असली मजा आता है. मोहनलाल बताते हैं कि वो रोजाना 250 किलोमाटर गाड़ी चलाते हैं. किसी किसी दिन 300 किलोमाटर से भी ज्यादा गाड़ी चलाते हैं. धमतरी में जब चौराहे पर तैनात ट्रैफिक पुलिस वालों ने उनका आदर सत्कार किया तो मोहन लाल को अपने गुजरात की याद आ गई.

जो डर गया समझो मर गया



उनकी पत्नी लीलाबाई चौहान से जब हमने पूछा कि रास्ते में नक्सल प्रभावित इलाका भी आपको पार करना होगा, क्या आपको डर नहीं लगता, इस पर उन्होंने कहा कि, 'जो डर गया समझो मर गया.' फिर उन्होंने ठहाके लगाते हुए बताया कि मोहनलाल उनके पति कम दोस्त ज्यादा हैं और सफर के दौरान दोनों खूब मस्तियां करते, गीत गुनगुनाते हुए चलते हैं.



ये भी पढ़ें -
मेगा रेड के बाद सरकार का एक्शन, रायपुर पुलिस ने IT की 20 गाड़ियों में लगाया ब्रेक
अजीत जोगी को HC से झटका, कर्मचारी खुदकुशी मामले में FIR हटाने की याचिका खारिज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading