Assembly Banner 2021

बारिश के कारण कई वार्डों में घुसा पानी, लोगों को किया गया दूसरी जगह शिफ्ट

बारिश के कारण कई वार्डों में घुसा पानी, लोगों को किया गया दूसरी जगह शिफ्ट

बारिश के कारण कई वार्डों में घुसा पानी, लोगों को किया गया दूसरी जगह शिफ्ट

धमतरी जिले में तीन दिन तक हुई भारी बरसात ने कई इलाकों में तबाही ले आई है. भारी बारिश के कारण धमतरी शहर के कई वार्डों में पानी भर गया है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में तीन दिन तक हुई भारी बरसात ने कई इलाकों में तबाही ले आई है. भारी बारिश के कारण धमतरी शहर के कई वार्डों में पानी भर गया है. घरों के बाहर गलियों में घुटनों तक पानी आ गया है. बता दें कि निचली बस्ती के लोगों को सूखी जगहों पर शिफ्ट करना पड़ा है. वहीं पुराने मंडी परिसर में कई परिवारों को पहले ही शिफ्ट किया कर दिया गया है.

इस दौरान इनके सोने और खाने के इंतजाम भी प्रशासन करवा रहा है. ज्यादा बारिश होने पर और भी बड़ी संख्या में लोगों को शिफ्ट करने की चुनौती खड़ी हो गई है. जिला प्रशासन ने इसकी भी तैयारी पूरी होने का दावा किया है. वहीं नगरी ब्लॉक में भारी वर्षा से सिरसिदा गांव में दो मकान ढह गए हैं. सिंघनपुरी, कट्टी, बुड्रा, रिसगांव समेत आधा दर्जन गांवों से संपर्क कट गया है. यहां तक की सड़के तक बह गईं हैं. पुल पुलिए क्षतिग्रस्त हो गए हैं.

लिहाजा, जिला प्रशासन इन इलाकों में लगातार नजर रख रहा है. वहीं संकट की स्थिति पड़ने पर नगर सैनिकों को तैयार रखा गया है. वहीं ज्यादा खतरे की आशंका वाली जगहों पर नगर सैनिकों की रेस्क्यू टीम तैनात की गई है.



इधर, गंगरेल बांध में फिलहाल पानी की आवक घट गई है और डिस्चार्ज भी कम किया गया है. मंगलवार की सुबह 9 बजे करीब 50 हजार क्यूसेक की आवक दर्ज की गई है. वहीं महानदी में करीब 80 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है. महानदी में लगातार पानी छोड़े जाने से प्रदेश के 7 जिलों पर प्रभाव पड़ता है और बाढ़ की आशंका बनी रहती है. लिहाजा, बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने खुद जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल धमतरी पहुंचे. उन्होंने बाढ़ और बारिश के संकट से निपटने की पूरी तैयारी होने की बात कही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज