चुनाव सिर पर, लेकिन अब तक VVPAT से अंजान हैं वोटर्स
Dhamtari News in Hindi

चुनाव सिर पर, लेकिन अब तक VVPAT से अंजान हैं वोटर्स
चुनाव सिर पर, लेकिन अब तक VVPAT से अंजान हैं वोटर्स

गांव तो गांव शहर के मतदाता को भी वीवीपीएटी के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. इधर, जिला निर्वाचन का दावा है कि एक-एक पंचायत में वीवीपीएटी मशीन का डेमो देकर जागरूकता फैलाई गई है, लेकिन आम लोगों से सवाल पूछे जाने पर ये दावे खोखले साबित हो रहे हैं.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में पहली बार वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रायल (वीवीपीएटी) मशीन का मतदान में इस्तेमाल होने जा रहा है. इस मशीन से मतदाता अपने दिए गए वोट की पुष्टि कर सकते हैं कि आखिर उनका वोट उसी प्रत्याशी को मिला है, जिसे उन्होंने दिया है. दरअसल, बीते कुछ चुनावों में ईवीएम मशीन की विश्वसनीयता पर उठे सवालों के बाद ये नई व्यवस्था की गई है. इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा प्रचार करना, आम मतदाता को इसकी जानकारी देना निर्वाचन आयोग की जिम्मेदारी है. ताकि मतदान के समय मतदाता के मन में कोई संशय या कोई अड़चन न हो, लेकिन हकीकत तो यह है कि लोगों ने इसका नाम भी नहीं सुना है.

गांव तो गांव शहर के मतदाता को भी वीवीपीएटी के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. इधर, जिला निर्वाचन का दावा है कि एक-एक पंचायत में वीवीपीएटी मशीन का डेमो देकर जागरूकता फैलाई गई है, लेकिन आम लोगों से सवाल पूछे जाने पर ये दावे खोखले साबित हो रहे हैं.

लोगों का कहना है कि उन्हें वीवीपीएटी मशीन के बारे में कोई जानकारी अब तक नहीं दी गई है. ऐसे में विधानसभा चुनाव पास है और उन्हें इस नई तकनीक के बारे में पता तक नहीं है. उन्होंने कहा कि आज से पहले उन्होंने इसका नाम तक नहीं सुना था.



इधर, मामले में जिला निर्वाचन अधिकारी सी. आर. प्रसन्ना ने कहा कि वीवीपीएटी मशीन जिले के सभी मतदान केंद्रों में इस्तेमाल किया जाएगा. लिहाजा, इसकी जनकारी समस्त ग्राम पंचायतों में दी जा रही है.



ये भी पढ़ें:- 6 माह से अटकी बिहान योजना, नाराज महिलाओं ने की बीजेपी के विरोध की घोषणा

धमतरी: 20 लीटर कच्ची शराब के साथ दो आरोपी गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading