धमतरी के जंगलों में बड़े पैमाने पर पेड़ों की अवैध कटाई, हो सकती है जांच

धमतरी वन विभाग मामले में जांच करने की तैयारी कर रहा है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के धमतरी वन मंडल (Dhamtari Forest Board) के सिंगपुर रेंज में माफिया ने जंगल के बड़े हिस्से की सफाई कर दी.

  • Share this:
धमतरी. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के धमतरी वन मंडल (Dhamtari Forest Board) के सिंगपुर रेंज में माफिया ने जंगल के बड़े हिस्से की सफाई कर दी. अब इस चोरी के मामले में वनविभाग जांच की तैयारी में है. धमतरी जिला मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर है. सिंगपुर रेंज, यहां के मूड़केरा गांव से लगे बाड़ी छापर के जंगल में बड़े पैमाने पर अवैध कटाई की गई है. चोरों ने जंगल से सैकड़ों पेड़ काट कर गायब कर दिए हैं. चोरों ने छोटे और आवयस्क पेड़ों को भी नहीं छोड़ा है. पूरी कटाई कुल्हाड़ी से की गई है.

इस जंगल मे जाने का कोई सीधा रॉड रास्ता नहीं है. यहां तक कि बाइक से भी यहां नहीं पहुंचा जा सकता. पहाड़ी नालों के कारण यहां पैदल ही चल कर जाया जा सकता है. जाहिर है इतने पेड़ों को काटने के लिए बड़ी संख्या में चोरों ने काम किया है और एक दिन में नही बल्कि कई दिनों तक कटाई हुई होगी. फिर लकड़ी को जंगल से निकाला भी गया होगा.

विभाग को नहीं है जानकारी
धमतरी के जंगलों में बड़े पैमाने पर पेड़ों की कटाई हो गई, लेकिन वन विभाग को कानोकान खबर नहीं लगी. आशंका जताई जा रही है कि वन कर्मचारी खुद इसमें संलिप्त हों. इस अवैध कटाई में गांव की वन सुरक्षा समिति से लेकर बीट गार्ड और रेंज अफसर तक सभी की भूमिका फिलहाल संदेह के दायरे में है. इस जंगल मे कर्रा प्रजाति के पेड़ बहुतायत में हैं, जिनका उपयोग बल्लियां बनाने में होता है. धमतरी वन मंडल अधिकारी सतोविशा समाजदार ने मामले को संज्ञान लेते हुए जांच की बात कही है.