Home /News /chhattisgarh /

छत्तीसगढ़ चुनाव: धमतरी में पुलिस ने तेज किया नक्सल सर्च ऑपरेशन

छत्तीसगढ़ चुनाव: धमतरी में पुलिस ने तेज किया नक्सल सर्च ऑपरेशन

छत्तीसगढ़ चुनाव: धमतरी में पुलिस ने तेज किया नक्सल सर्च ऑपरेशन

छत्तीसगढ़ चुनाव: धमतरी में पुलिस ने तेज किया नक्सल सर्च ऑपरेशन

पुलिस ने हार्डकोर इनामी नक्सलियों के पोस्टर जंगल और गांवों में लगवा दिए हैं. ये पोस्टर रिसगांव, खल्लारी और मांदागिरी आदि जैसे नक्लस प्रभावित गांवों में लगाए गए हैं, जहां नक्सलियों की पैठ मानी जाती है.

    छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव पास है. इसी क्रम में दूसरे चरण यानी आगामी 20 नवंबर को धमतरी में होने वाले चुनाव को लेकर सुरक्षा के लिए अभी से पुलिस अलर्ट मोड पर है. खास तौर पर नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से एक अभियान भी चला रखा है.

    पुलिस ने हार्डकोर इनामी नक्सलियों के पोस्टर जंगल और गांवों में लगवा दिए हैं. ये पोस्टर रिसगांव, खल्लारी और मांदागिरी आदि जैसे नक्लस प्रभावित गांवों में लगाए गए हैं, जहां नक्सलियों की पैठ मानी जाती है.

    बहरहाल, मामले में जानकारी देते हुए एसपी रजनेश सिंह ने बताया कि इनामी नक्सलियों में 8 लाख से लेकर 1 लाख तक के इनामी नक्सली शामिल हैं. पोस्टर में सत्यम गावड़े और प्रवीण जैसे खतरनाक नक्सलियों के नाम शामिल हैं. वहीं जानसी और गीता जैसी महिला नक्सलियों की भी फोटो चस्पा की गई है.

    पोस्टर में इनामी नक्सलियों की कद काठी, संगठन में पद के साथ वो कौन सा हथियार साथ रखते हैं, ये सभी विवरण पोस्टर में उल्लेख हैं. पुलिस ने पोस्टरों के माध्यम से लोगों से अपील की है कि इनकी सूचना मिलने पर पुलिस को तत्काल खबर करें. इसके अलावा पुलिस लगातार जंगलों में कैंप भी कर रही है. हाल ही में पुलिस ने जिले में नक्सल विरोधी मुहिम में कई बड़ी कामयाबी हासिल की है. लिहाजा, अब पुलिस ने चुनाव को लेकर अपने अभियान को और तेज कर दिया है.

     

    ये भी पड़ें:- #AssemblyElection: धमतरी में बसों के अधिग्रहण से यात्री परेशान

    चुनाव सिर पर, लेकिन अब तक VVPAT से अंजान हैं वोटर्स

    Tags: Assembly Elections 2018, Naxal search operation

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर