Assembly Banner 2021

धमतरी: ग्रामीणों ने प्रत्‍याशियों से कहा- स्‍टांप पेपर पर लिखकर दें अपने वादे

धमतरी: ग्रामीणों ने प्रत्‍याशियों से कहा- स्‍टांप पेपर पर लिखकर दें अपने वादे

धमतरी: ग्रामीणों ने प्रत्‍याशियों से कहा- स्‍टांप पेपर पर लिखकर दें अपने वादे

धमतरी के रिसगांव, खल्लारी, और हर्रि पंचायत में सड़क, पानी, बिजली जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए मोहताज ग्रामीणों ने इस बार प्रत्याशियों से किए गए वादों को स्टांप पेपर में लिखकर मांगा है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ में धमतरी जिले के दूरस्थ वनांचल के 3 पंचायतों में लोगों ने चुनाव बहिष्कार की चेतवानी दी है. रिसगांव, खल्लारी, और हर्रि पंचायत में सड़क, पानी, बिजली जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए मोहताज ग्रामीणों ने इस बार प्रत्याशियों से किए गए वादों को स्टांप पेपर में लिखकर मांगा है. इस चेतावनी से जिला प्रशासन हड़बड़ाया हुआ है.

बता दें कि जिले के सिहावा अंचल के कई गांव आज भी सड़क, पुल, पुलिया, बिजली और पानी जैसी मूलभूत समस्याओं से जूझ रहे हैं. बरसात में इस अंचल के कई गांव पहुंच विहीन हो जाते हैं. नतीजे में स्वास्थ्य और शिक्षा जैसी सेवाएं भी प्रभावित हो जाती हैं. इलाके के बच्चे 8वीं कक्षा तक ही पढ़ पाते हैं. जब ये लोग अखबार और टीवी में सरकार के विकास वाले विज्ञापन देखते हैं, तो इनका गुस्सा और बढ़ जाता है. दरअसल, इन गांवों में न तो सांसद जाते हैं और ना ही विधायक, लेकिन चुनाव का समय आते ही यही नेता वादों का झुनझुना पकड़ाकर वोट जरूर ले जाते हैं.

ऐसे में इस बार रिसगांव, खल्लारी, और हर्रि पंचायत के लोगों ने सख्त रवैया अपना लिया है. यहां के ग्रामीण और सरपंचों ने ऐलान कर दिया है कि जब तक वोट मांगने आया प्रत्यशी अपने वादों को स्टांप पेपर में लिखकर नही देगा, वे वोट नहीं देंगे. अगर किसी ने स्टांप पेपर में लिखकर नहीं दिया तो चुनाव का बहिष्कार कर देंगे.



ग्रामीणों की घोषणा के बाद कलेक्टर सी. आर. प्रसन्ना ने अब अपने अधिकारियों को इन गांवों का दौरा करवाने की बात कही है.
 

ये भी पढ़ें:- छत्तीसगढ़ चुनाव: धमतरी में पुलिस ने तेज किया नक्सल सर्च ऑपरेशन

#AssemblyElection: धमतरी में बसों के अधिग्रहण से यात्री परेशान
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज