इस जिले में 1 लाख 87 हजार युवा हैं बेरोजगार

News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 2:04 PM IST
इस जिले में 1 लाख 87 हजार युवा हैं बेरोजगार
File Photo
News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 2:04 PM IST
जिला रोजगार कार्यालय दुर्ग द्वारा बेरोजगारों का सर्वे किया जा रहा है. सर्वे के माध्यम से यह जानकारी जुटाने का प्रयास हो रहा है कि रोजगार कार्यालय में कराए गए पंजीयन की तुलना में वास्तविक बेरोजगारों की संख्या कितनी है. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक जिले में करीब 1 लाख 87 हजार युवा बेरोजगार हैं.

जिला रोजगार कार्यालय दुर्ग को मॉडल कॅरियर सेंटर के रूप में विकसित किया गया है. यहां स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र भी खुला हुआ है. जहां शिक्षित बेरोजगारों को उनकी शैक्षणिक योग्यता के हिसाब से रोजगार के लिए आगे क्या किया जा सकता है, इसके संबंध में जानकारी दी जाती है. स्वरोजगार मार्गदर्शन के लिए यहां रोजाना करीब सौ से डेढ़ सौ लोग आते हैं.

मार्गदर्शन से पहले ऐसे युवक-युवतियों का पंजीयन कर उनके संबंध में जानकारी एकत्रित की जाती है.
इसमें यह भी पूछा जाता है कि वे वर्तमान में किसी निजी संस्था में काम तो नहीं कर रहे हैं. रोजगार कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार मार्गदर्शन प्राप्त करने आने वाले लोगों में से कुछ किसी न किसी संस्था में कार्यरत होते हैं, ऐसे लोगों को बेरोजगार नहीं माना नहीं जाता. वे और बेहतर काम की तलाश में दिशा-निर्देश लेने आते है. फिर भी 1 लाख 87 हजार लोगों ने रोजगार कार्यालय में अपना पंजीयन करा रखा है, जो अपने आप को बेरोजगार बताते हैं.

मॉडल कॅरियर सेंटर के रूप में विकसित स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र में रोजगार के संबंध में जानकारी लेने वाले युवक-युवतियों को उनकी शैक्षणिक योग्यता और रुचि के हिसाब से क्या काम करना बेहतर रहेगा इस संबंध में सुझाव दिया जाता है. स्वरोजगार स्थापित करने किस योजना में किस काम के लिए कितनी ऋण राशि प्रदान की जा रही है इस संबंध में भी जानकारी दी जाती है.

दुर्ग के जिला रोजगार अधिकारी राजकुमार कुर्रे बताते हैं कि जिला रोजगार कार्यालय में एक लाख 87 हजार लोगों का पंजीयन है. यहां स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र भी खुला है, जहां रोजाना रोजगार के संबंध में जानकारी प्राप्त करने बड़ी संख्या में लोग आते हैं. वास्तिक बेरोजगारों की संख्या के बारे में जानकारी जुटाने का प्रयास किया जा रहा है. इसके तहत ही सर्वे कराया जा रहा है.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर