लाइव टीवी

जिला सहकारी बैंक के CEO के दफ्तर में ACB की दबिश, आय से अधिक संपत्ति की थी शिकायत

Mithilesh Thakur | News18 Chhattisgarh
Updated: January 7, 2020, 5:20 PM IST
जिला सहकारी बैंक के CEO के दफ्तर में ACB की दबिश, आय से अधिक संपत्ति की थी शिकायत
सूत्रों की मानें को सीईओ से दफ्तर से कई अहम दस्तावेज और बैंक खातों की जानकारी एसीबी को लगी है. (सांकेतिक फोटो).

एसीबी के एडिश्नल एसपी नागेश्वर नाग के नेतृत्व में ये पूरी कार्रवाई की गई जिसमें करीब दो दर्जन से अधिकारी और कर्मचारियों के शामिल होने की बात कही जा रही है.

  • Share this:
दुर्ग. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दुर्ग (Durg) जिले में मंगलवार सुबह एसीबी (ACB- Anti Corruption Bureau) की टीम की कार्रवाई से पूरे शहर में हड़कंप मच गया. जानकारी के मुताबिक एसीबी की टीम ने जिला सहकारी केंद्रीय बैंक (District Cooperative Central Bank) के सीईओ (CEO) एसके निवसरकर के दफ्तर में दबिश दी. कार्रवाई करते हुए अधिकारियों की टीम ने बैंक में सीईओ के ऑफिस को सील कर दिया. एसीबी के एडिश्नल एसपी नागेश्वर नाग के नेतृत्व में ये पूरी कार्रवाई की गई जिसमें करीब दो दर्जन से अधिकारी और कर्मचारियों के शामिल होने की बात कही जा रही है. सूत्रों की मानें को सीईओ से दफ्तर से कई अहम दस्तावेज और बैंक खातों की जानकारी एसीबी को लगी है.

आय से अधिक संपति का मामला

जानकारी के मुताबिक एसीबी की टीम ने दुर्ग के जिला सहकारी केद्रीय बैंक में सीईओ के दफ्तर को सील कर दिया. मंगलवार सुबह टीम एसके निवसरकर के सिंधिया नगर स्थित निवास भी पहुंची जहां पर फिलहाल लगातार कार्रवाई की जा रही है. बताया जा रहा है कि बैंक के सीईओ एसके निवसरकर का सिंधिया नगर में एक और अन्य मकान भी है जहां पर भी एसीबी की टीम के द्वारा कार्रवाई की गई है.

एसीबी की टीम ने जिला सहकारी केंद्रीय बैंक (District Cooperative Central Bank) के सीईओ (CEO) एसके निवसरकर के दफ्तर में दबिश दी.


सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक टीम को कैश, कई जमीनों के दस्तावेज, सोने चांदी के जेवरों सहित लाॅकर और करीब 6 विभिन्न बैंकों के पासबुक मिले हैं. फिलहाल ये कार्रवाई लगातार की जा रही है जिसके बारे में टीम ने अभी तक कोई खुलासा नहीं किया है. बताया जाता है कि आय से अधिक संपत्ति की शिकायत एसीबी में होने के बाद इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया है. एसके निवसरकर वर्ष 2017 से सीईओ के पद पर कार्यरत हैं. इसके पूर्व वे बैंक में ही विपणन अधिकारी के तौर पर अपनी सेवाएं दे चुके है. बहरहाल जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के माध्यम से ही वर्तमान में संपूर्ण जिले में धान की खरीदी की जा रही है. ऐसे में ये कार्रवाई होना सरकार की सख्ती उजागर कर रही है.

ये भी पढ़ें: 

 एक ही फंदे से लटका मिला पति-पत्नी का शव, मामले की जांच में जुटी पुलिस  

डॉक्टर ने मरीज को ऐसा मारा मुक्का की टूट गया दांत, थाने पहुंचा मामला 

 

हटाए गए सरगुजा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रोहिणी प्रसाद, लगा ये आरोप  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुर्ग से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2020, 5:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर