लाइव टीवी

अभिषेक मिश्रा हत्याकांड की सुनवाई पूरी, 5 साल बाद कोर्ट सुना सकता है बड़ा फैसला

Mithilesh Thakur | News18 Chhattisgarh
Updated: January 13, 2020, 12:30 PM IST
अभिषेक मिश्रा हत्याकांड की सुनवाई पूरी, 5 साल बाद कोर्ट सुना सकता है बड़ा फैसला
इस मामले में 13 जनवरी की तिथि फैसले की निर्धारित की गई है. (File Photo)

इस मामले में 13 जनवरी की तिथि फैसले की निर्धारित की गई है. अब पूरी भिलाई सहित प्रदेशवासियों की निगाहें इस बहुचर्चित मामले के फैसले पर टिकी हुई है.

  • Share this:
दुर्ग. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के भिलाई (Bhilai) शहर के बहुचर्चित अभिषेक मिश्रा हत्याकांड (Abhishek Mishra Murder Case )मामले में सोमवार को दुर्ग न्यायालय (Durg District Court) में फैसला सुनाया जा सकता है. मालूम हो कि साल 2015 से लगातार इस मसले में दुर्ग जिला न्यायालय में मामले के गवाहों के बयान सहित ट्रायल (Case Trail) चल रहा था. इस केस की बहस पूरी होने के बाद न्यायालय ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. इस मामले में 13 जनवरी की तिथि फैसले की निर्धारित की गई है. अब पूरी भिलाई सहित प्रदेशवासियों की निगाहें इस बहुचर्चित मामले के फैसले पर टिकी हुई है.

हाईप्रोफाइल है ये मर्डर केस

गौरतलब है कि भिलाई में हुुआ बहुचर्तित अभिषेक मिश्रा हत्याकांड फिल्म दृश्यम की कहानी से मिलता जुलता है. साल 2015 में 9 नवम्बर की शाम पूरे देश में ख्यातिप्राप्त शंकराचार्य इंजीनियरिंग काॅलेज के चेयरमेन आईपी मिश्रा के इकलौते बेटे अभिषेक मिश्रा का अपहरण हुआ था. बेहद ही हाईप्रोफाइल इस मामले ने पूरे प्रदेश में खलबली मचा दी थी. हाईप्रोफाइल मामले को देखते हुए पुलिस ने भी इसे सुलझाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा दिया था. यही वजह थी कि पूरे देश के करीब 1 करोड़ मोबाइल फोन की डिटेल खंगालने के बाद पुलिस की निगाह भिलाई में रहने वाले सेक्टर 10 निवासी विकास जैन के उपर आ टिक गई थी.

chhattisgarh news, cg news, bhilai news, crime news, bhilai crime news, Abhishek Mishra murde case, Abhishek Mishra murde case verdict, bhilai Abhishek Mishra murde case, durg district court, छत्तीसगढ़ न्यूज, सीजी न्यूज, भिलाई न्यूज, भिलाई क्राइम न्यूज, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड में फैसला, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड की सुनवाई पूरी, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड पर फैसला, दुर्ग जिला कोर्ट, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड पर आज आएगा फैसला
साल 2015 में 9 नवम्बर की शाम पूरे देश में ख्यातिप्राप्त शंकराचार्य इंजीनियरिंग काॅलेज के चेयरमेन आईपी मिश्रा के इकलौते बेटे अभिषेक मिश्रा का अपहरण हुआ था.


44 दिन बाद मिली थी लाश

पुलिस ने जब कॉल डिटेल को आधार बनाकर पूरी जांच शुरु की तो घटना के करीब 44 दिन बाद आरोपी विकास जैन के चाचा अजीत के स्मृति नगर निवास पर बगीचे में अभिषेक की सड़ी गली लाश बरामद हुई थी. आरोपियों ने बेहद ही शातिराना अंदाज में लाश को गड़ाकर उसमें सब्जियां उगा दी थी. पुलिस ने लाश के पास हाथ का कडा, अंगूठी, और लाॅकेट देखकर अभिषेक की लाश होने की पुष्टि की थी.  लाश का डीएनए टेस्ट भी कराया गया था.

chhattisgarh news, cg news, bhilai news, crime news, bhilai crime news, Abhishek Mishra murde case, Abhishek Mishra murde case verdict, bhilai Abhishek Mishra murde case, durg district court, छत्तीसगढ़ न्यूज, सीजी न्यूज, भिलाई न्यूज, भिलाई क्राइम न्यूज, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड में फैसला, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड की सुनवाई पूरी, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड पर फैसला, दुर्ग जिला कोर्ट, अभिषेक मिश्रा हत्याकांड पर आज आएगा फैसला
हत्या के तकरीबन 44 दिनों बाद अभिषेक की लाश एक बगीचे से मिली थी.
तीन आरोपी हुए थे गिरफ्तार

मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था जिसमें अभिषेक के काॅलेज में पढ़ाने वाली प्रोफेसर किम्सी, उसका पति विकास और उसका चाचा अजीत शामिल था. आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद लगातार इस मामले की जांच की गई और जांच पूरी होने के बाद इसे दुर्ग न्यायालय में प्रस्तुत किया गया. करीब पांच साल तक ये मामला दुर्ग जिला न्यायालय में चल रहा था. पूरी जांच और गवाही होने के बाद अब दुर्ग जिला न्यायालय इस मामले में अपना फैसला सुना सकता है.

 

ये भी पढ़ें: 

ड्रोन से स्टेशनों पर हमले का खतरा, रेलवे ने पुलिस को अलर्ट रहने लिखा पत्र  

 

युवक की हत्या, टॉवल से बंधे मिले दोनों हाथ, नक्सली वारदात की आशंका
VIDEO: एक दिन का विधानसभा सत्र बुलाने से BJP नाराज, लगाया ये आरोप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुर्ग से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 12:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर