Home /News /chhattisgarh /

भिलाई पार्षद मर्डर केस: दोस्त निकला मास्टरमाइंड, 1 साल से रच रहा था साजिश, आपसी रंजिश में की हत्या

भिलाई पार्षद मर्डर केस: दोस्त निकला मास्टरमाइंड, 1 साल से रच रहा था साजिश, आपसी रंजिश में की हत्या

Suraj Banchor Murder Case: पुलिस ने भिलाई में हुए कांग्रेस पार्षद सूरज बंछोर की हत्या का खुलासा कर दिया है.

Suraj Banchor Murder Case: पुलिस ने भिलाई में हुए कांग्रेस पार्षद सूरज बंछोर की हत्या का खुलासा कर दिया है.

Durg Crime News: छत्तीसगढ़ के भिलाई में हुए कांग्रेस पार्षद सूरज बंछोर हत्याकांड  (Congress Parshad Suraj Banchor Murder Case) का खुलासा पुलिस ने कर दिया है. हत्या का मास्टमाइंड पार्षद का दोस्त निकला. पुलिस का कहना है कि आपसी रंजिश में पार्षद की हत्या कर दी गई है.

अधिक पढ़ें ...

दुर्ग. भिलाई (Bhilai) के हथखोज में हुुए कांग्रेस पार्षद सूरज बंछोर (Congress Parshad Suraj Banchor Murder Case) हत्याकांड का आखिरकार खुलासा हो गया है. इस हत्या के मामले में पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. उन्होंने इस पूरी वारदात को अंजाम दिया था. आरोपियों के पास से 2 नग देसी कटटा, 4 जिंदा कारतूस और 2 बाइक जब्त की है. आरोपियों में एक मास्टरमाइंड पार्षद का ही दोस्त निकला है जिसने पार्षद से बदला लेने के लिए हत्या की पूरी रचना रची थी. भिलाई चरोदा निगम के पार्षद सूरज बंछोर के हत्या की गुत्थी आखिरकार घटना के 6 दिन बाद सुुलझ गई है.

वारदात को अंजाम देने वाले सभी चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों में एक पार्षद का दोस्त रहा दीनू पॉल है जिसने अपने 3 अन्य साथियों के साथ मिलकर वारदात को 15 नवंबर की रात अंजाम दिया था. 3 आरोपियों को पुलिस ने  जांजगीर तो एक कोे भिलाई से ही पुलिस ने गिरफतार किया है. पुलिस की जांच में तीनों ही आरोेपी संदेह के दायरे में थे.

घटना के बाद से फरार थे आरोपी

घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गए थे जिससे पुलिस का संदेह और पुख्ता हो गया. आरोपियों का पीछा करते पुलिस इनके  ठिकानों तक भी पहुंच गई और फिर सभी को गिरफतार कर लिया गया. पुलिस ने घटना में प्रयुक्त हथियारों के अलावा और भी कई अन्य हथियार जब्त किए हैं.  पुलिस के अनुसार मुख्य आरोपी दीनू और पार्षद सूरज की आपसी रंजिश हत्या का कारण बनी. आरोपी पिछले एक साल से पार्षद की हत्या की योजना बना रहा था. घटना के एक दिन पूर्व भी उसने हत्या की योजना बनाई थी लेकिन वो सफल नही हो पाया. लेकिन 15 नवम्बर को उसकी योजना सफल हो गई. पुलिस के अनुसार मुख्य आरोपी दीनू ने मुख्य तीन कारणों से पार्षद की निर्मम हत्या की थी. पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने हत्या के तीन प्रमुख कारणों को बताया है, जिसके कारण वो बदला लेने के लिए हत्या की वारदात को अंजाम दिया.

 ये भी पढ़ें: Rajasthan में फिर छिड़ी सियासी रार, CM गहलोत के सलाहकार की मांग- सचिन पायलट को प्रदेश से बाहर करें
आपको बता दें कि पार्षद सूरज बंछोर भिलाई-3 चरोदा निगम क्षेत्र में वार्ड 2 का कांग्रेसी पार्षद था. 15 नवम्बर की रात धारदार हथियार से पार्षद सूरज बंछोर की हत्या कर दी गई थी. घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गए थे. इस पूरे मामले में अलग-अलग बातें निकलकर सामने आ रही थी. सभी एंगलों पर पुलिस ने बारीकी से जांच की जिसमें मुख्य रूप से दीनू पॉल और पार्षद की मारपीट की बात सामने आई. जांच में घटना के बाद से दीनू गायब मिला. इसकी तलाश शुरू की गई और पुलिस जांच करते- करते आरोपियों तक पहुंच गई. बहरहाल पुलिस ने इस पूरी वारदात को सुलझा कर राहत की सांस ली है.

Tags: Chhattisgarh news, Crime News, Durg news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर