मां की अंतिम यात्रा में फूट-फूट कर रोये CM भूपेश बघेल, खुद दी मुखाग्नि

सीएम भूपेश बघेल की मां बिंदेश्वरी देवी का रविवार की शाम को उपचार के दौरान रायपुर के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था.

News18 Chhattisgarh
Updated: July 8, 2019, 7:44 PM IST
मां की अंतिम यात्रा में फूट-फूट कर रोये CM भूपेश बघेल, खुद दी मुखाग्नि
सीएम भूपेश बघेल की मां बिंदेश्वरी देवी का रविवार की शाम को उपचार के दौरान रायपुर के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था.
News18 Chhattisgarh
Updated: July 8, 2019, 7:44 PM IST
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता बिंदेश्वरी देवी का अंतिम संस्कार सोमवार की दोपहर भिलाई 3 के मुक्तिधाम में किया गया. बिंदेश्वरी देवी की अंतिम यात्रा भिलाई सेक्टर 3 स्थित निज निवास से उम्दा रोड स्थित मुक्तिधाम में किया गया. इस दौरान प्रदेश के पूरे मंत्रिमंडल के साथ ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के कई बड़े नेताओं और हाई कोर्ट के न्यायाधीश व आमजन उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे.

सीएम भूपेश बघेल की मां बिंदेश्वरी देवी का रविवार की शाम को उपचार के दौरान रायपुर के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था. वह कई दिनों से बीमारी के चलते अस्पताल में भर्ती थीं. अंतिम समय में उनके साथ मुख्यमंत्री बघेल अस्पताल में ही मौजूद थे. निधन के बाद देर शाम ही उनकी मां की पार्थिव देह को भिलाई-3 सीएम निवास पर रखा गया था. सीएम बघेल ने ही मुखाग्नि दी.

अस्पताल में इलाज के दौरान अपनी मां के साथ सीएम भूपेश बघेल. फाइल फोटो.


अपनी मां बिंदेश्वरी देवी की अंतिम यात्रा जैसे ही शुरू हुई मुख्यमंत्री भूपेश बघेल फूट फूटकर रोने लगे. किसी तरह उन्हें लोगों ने संभाला और ढांढस बंधाया. फिलहाल पार्थिव देह को अंतिम संस्कार के लिए मुक्तिधाम ले जाया जा रहा है. इस दौरान हजारों कार्यकर्ता और लोग उसमें शामिल हैं. निधन के चलते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के 8 और 9 जुलाई के पूर्व निर्धारित सभी कार्यक्रम निरस्त कर दिए गए हैं. 8 जुलाई को कांग्रेस के प्रदेश स्तरीय आंदोलन को भी रद्द कर दिया गया है.

सीएम कमलनाथ भी पहुंचेंगे
बिलासपुर हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पी रामचंद्रनन मेनन, गृहमंत्री ताम्रध्वज साह, मंत्री कवासी लखमा पहले ही भिलाई पहुंचे. इसके साथ ही मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ भी तकरीबन 3 बजे विशेष विमान से रायपुर पहुंचेंगे और अपनी श्रद्धांजलि देंगे. साथ ही पीएल पुनिया भी वहां पहुंचेगे.

ये भी पढ़ें:
Loading...

कांकेर में तेज रफ्तार बस ने राह चलते पुलिस जवान को रौंदा, मौत

बैगा आदिवासियों की पिटाई के मामले ने पकड़ा तूल, वन विभाग पर कार्रवाई की मांग 
First published: July 8, 2019, 1:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...