Corona News: दुर्ग में 6 से 14 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकाडाउन, कलेक्‍टर ने जारी किया आदेश

कोरोना पॉजिटिव की बढ़ती संख्या को देखते हुए कलेक्टर रजत बंसल ने वार्ड को कंटेमेंट जोन बनाने का निर्देश दिया है. (कॉन्सेप्ट इमेज)

कोरोना पॉजिटिव की बढ़ती संख्या को देखते हुए कलेक्टर रजत बंसल ने वार्ड को कंटेमेंट जोन बनाने का निर्देश दिया है. (कॉन्सेप्ट इमेज)

जगदलपुर (Jagdalpur) से खबर है कि यहां के रमैया वार्ड को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है. मेडिकल सेवा को छोड़कर सभी प्रतिष्‍ठानों को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं.

  • Share this:
दुर्ग. इस वक्‍त की सबसे बड़ी खबर छत्‍तीसगढ़ के दुर्ग (Durg) से आ रही है. कोरोना वायरस (Corona virus) से फैल रहे संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए दुर्ग में संपूर्ण लॉकडाउन  (lockdown) करने का ऐलान किया गया है. कलेक्‍टर ने इस बाबत आदेश जारी कर दिए हैं. वहीं, जगदलपुर से खबर है कि यहां के रमैया वार्ड को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है. मेडिकल सेवा को छोड़कर सभी प्रतिष्‍ठानों को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं. वार्ड में अब तक 72 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं. कोरोना पॉजिटिव की बढ़ती संख्या को देखते हुए कलेक्टर रजत बंसल ने वार्ड को कंटेमेंट जोन बनाने का निर्देश दिया है.

कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आम नागरिकों से अपील की है कि जिले में संक्रमण के तेज प्रसार को नियंत्रित करने यह बहुत जरूरी है कि लॉकडाउन के माध्यम से कोरोना की गतिशीलता को नियंत्रित किया जाए. इसके लिए नागरिकों का सहयोग बेहद जरुरी है. पूर्व में जिले में लॉक डाउन लगाए गए थे और जन सहयोग से कोरोना की पहली लहर को रोक पाने में सफलता मिली थी. इस बार भी कोविड संकट के दौर में धैर्य की जरूरत है, ताकि कोविड संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित किया जा सके. कलेक्टर ने नागरिकों से अपील की है कि घर में रहें, सुरक्षित रहें. पिछली बार की तरह हमने लॉकडाउन में सम्पूर्ण संयम का परिचय दिया तो कोविड की गंभीरता से पूरी तरह से बच सकेंगे.

Youtube Video


24396 लोगों को पहली डोज लगाई गई
उन्होंने 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों से नजदीकी टीकाकरण केंद्र पहुंचकर टीका लगवाने का आग्रह किया. कलेक्टर ने नागरिकों से अपील की है कि कोरोना के लक्षण उभरते ही टेस्ट कराएं. साथ ही पॉजिटिव आने पर चिकित्सक की सलाह पर कार्य करें. पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने पर भी टेस्ट कराएं. पॉजिटिव मरीजों के आइसोलेशन का पूरा ध्यान रखें. कलेक्टर ने कहा है कि जिले के समक्ष यह कठिन परिस्थिति है. यदि इस समय पूरे संयम और दृढ़ता से इस परिस्थिति का मुकाबला किया तो निश्चय ही हम अपने परिवारजनों और प्रियजनों को इस विपदा से सुरक्षित रख सकेंगे. वहीं, कोरोना टीका की बात करें तो दुर्ग जिले के 248 केंद्रों में 1 अप्रैल को 25339 लोगों का टीकाकरण को हुआ. इनमें से 6292 बुजुर्ग और 17532 रोगी शामिल थे. 24396 लोगों को पहली डोज लगाई गई थी. साथ ही 943 लोगों को कोरोना की दूसरी डोज लगाई गई है.

मुख्य सचिव ने कलेक्टर वीसी में निर्देश दिए

बता दें कि कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के लिए स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार लॉकडाउन के संबंध में निर्णय लेने के लिए कलेक्टरों को मुख्य सचिव के माध्यम सेनिर्देशित किया हैं. उन्होंने यह निर्देश स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंह देव के परामर्श पर दिया. स्वास्थ मंत्री ने मुख्यमंत्री से फोन पर लॉकडाउन करने का अनुरोध किया था, इस पर मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार कलेक्टर को निर्णय लेने हेतु अधिकृत करने का निर्देश दिया और मुख्य सचिव ने कलेक्टर वीसी में निर्देश दिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज