उज्ज्वला योजना के तहत इस वित्तीय वर्ष निर्धारित लक्ष्य से कम हुआ गैस वितरण

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बावजूद लोग शासन की उज्ज्वला योजना के प्रति अपनी रुचि नहीं दिखा रहे हैं. इस वित्तीय वर्ष के लिए खाद्य विभाग को करीब 36 हजार लोगों को उज्जवला योजना के तहत लाभान्वित करना था, लेकिन यह संख्या जनवरी माह तक महज 15 हजार के आसपास आकर लटक गई.

Mithilesh Thakur | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 1:25 PM IST
उज्ज्वला योजना के तहत इस वित्तीय वर्ष निर्धारित लक्ष्य से कम हुआ गैस वितरण
उज्ज्वला योजना के तहत इस वित्तीय वर्ष निर्धारित लक्ष्य से कम हुआ वितरण
Mithilesh Thakur
Mithilesh Thakur | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 1:25 PM IST
छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बावजूद लोग शासन की उज्ज्वला योजना के प्रति अपनी रुचि नहीं दिखा रहे हैं. इस वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए खाद्य विभाग को करीब 36 हजार लोगों को उज्जवला योजना के तहत लाभान्वित करना था, लेकिन यह संख्या जनवरी माह तक महज 15 हजार के आसपास आकर लटक गई.

लिहाजा, इतनी कम संख्या का होना कई प्रश्न चिन्ह खड़े कर रहा है. वहीं दूसरी ओर यह भी संकेत कर रहा है कि लोग अब इस योजना के प्रति अपनी रुचि नहीं दिखा रहे हैं. इधर, खाद्य विभाग के सहायक अधिकारी सी. पी. दीपांकर के मुताबिक अब लक्ष्य प्राप्ति के लिए घर घर जाकर सर्वे कराया जा रहा है. ताकि लोगों को इस योजना का लाभ दिलाया जा सके.

उन्होंने कहा कि वर्ष 2016-17 के लिए खाद्य विभाग को 35 हजार कनेक्शन उज्जवला योजना के तहत लोगों को देने का लक्ष्य दिया गया था. हालांकि विभाग ने इस लक्ष्य को पूरा भी कर लिया, लेकिन इस वर्ष मिले 36 हजार 203 के लक्ष्य को प्राप्त करना विभाग के लिए असंभव नजर आ रहा है.

आपको बता दें कि विभाग ने अभी तक इसमें से सिर्फ 15 हजार 300 लोगों को ही गैस कनेक्शन दिया है. इसमें बाकी शेष हितग्राहियों को घर घर जाकर आवेदन भरवाने का कार्य किया जा रहा है.

फिर भी विभाग लक्ष्य प्राप्ति को लेकर हर संभव प्रयास कर रहा है. ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस योजना का लाभ दिलाया जा सके.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर