फेल हुई तो ट्रेन से कूदकर दी जान, सुसाइड नोट में लिखा- यहां मरूंगी तो आप बचा लेंगे इसलिए….

दुर्ग जिले में बीएससी फाइनल ईयर की एक छात्रा ने परीक्षा में फेल होने के कारण चलती ट्रेन से कूदकर अपनी जान दे दी.

News18 Chhattisgarh
Updated: July 20, 2019, 7:47 AM IST
फेल हुई तो ट्रेन से कूदकर दी जान, सुसाइड नोट में लिखा- यहां मरूंगी तो आप बचा लेंगे इसलिए….
परीक्षा में फेल होने के बाद छात्रा ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान
News18 Chhattisgarh
Updated: July 20, 2019, 7:47 AM IST
छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में बीएससी फाइनल ईयर की एक छात्रा ने परीक्षा में फेल होने के कारण चलती ट्रेन से कूदकर अपनी जान दे दी. दरअसल, दाे दिन पहले ही परीक्षा का रिजल्ट आया था. तब से छात्रा अपने फेल होने को लेकर काफी परेशान रहने लगा थी. बता दें कि छात्रा ने इस घातक कदम को उठाने से पहले अपने घर पर एक सुसाइड नोट भी छोड़ा था. सुसाइड नोट में छात्रा ने फेल होने को अपनी खुदकुशी का कारण बताया हैै. जैसे ही परिजन के हाथ वो नोट लगा, वे उसे ढूंढते हुए बघेरा रेलवे फाटक पहुंचे, जहां ट्रैक के किनारे छात्रा का शव मिला. फिलहाल, घटना की सूचना पुलिस को दे दी गई है. मौके पर पहुंचकर पुलगांव पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. घटना शुक्रवार सुबह करीब 9.30 बजे की है.

रिजल्ट के बाद परेशान रहने लगी थी 

मिली जानकारी के मुताबिक आदर्श नगर कैंप-1 में रहने वाली 19 वर्षीय खुशबू गुप्ता वैशाली नगर कॉलेज में बीएससी फाइनल ईयर की छात्रा थी. इस दौरान बीते 17 जुलाई को उसका रिजल्ट आया था, जिसमें वह तीन विषयों में फेल हो गई थी. परिजनों के मुताबिक तब से वह काफी परेशान रहने लगी थी. परिजनों की मानें तो गुरुवार की रात को छात्रा ने उनके साथ खाना खाने के बाद अपने कमरे में सोने चली गई थी. इसके बाद अगले दिन शुक्रवार सुबह वह कमरे में नहीं थी. कमरे में उसका सुसाइड नोट मिला.

सुसाइड नोट में लिखी ये बात 

छात्रा ने सुसाइड नोट में लिखा था कि, "मुझे लगा था कि मैं पास हो जाऊंगी लेकिन मैं फेल हो गई. मेरा पेपर तो ठीक गया था, लेकिन गणित का पेपर खराब चला गया था. क्योंकि क्वेश्चन पेपर ही खराब आया था. इसलिए मैं मरने जा रही हूं." फेल होना छात्रा को बर्दाश्त नहीं हो रहा था. इसलिए उसने इस तरह का घातक कदम उठा लिया. वहीं चाट-गुपचुप का ठेला लगाने वाले खुशबू के पिता व पूरा परिवार बेटी के इस कदम से सदमे में है. बता दें कि खुशबू घर में सबसे छोटी थी, इसलिए वह सबकी लाडली भी थी.

बहन की लाश देख फूट-फूटकर रो पड़ा भाई

इस दौरान छात्रा का भाई विनोद उसे पावर हाउस रेलवे स्टेशन, दुर्ग रेलवे स्टेशन जाकर ढूंढा. इसके बाद वहां से मुढ़हीपार स्टेशन पहुंचा. आसपास के लोगों से बहन के बारे में पूछा, तो कुछ लोगों ने बताया कि मोहलई के पास रेलवे ट्रैक पर किसी लड़की ने खुदकुशी की है. जब वहां पहुंच कर देखा तो वह खुशबू ही थी. लाश देखने के बाद वह फूट-फूटकर रो पड़ा.
Loading...

ट्रेन से कूदते तीन बच्चों ने देखा था (सांकेतिक तस्वीर)


ट्रेन से कूदते तीन बच्चों ने देखा था

वहीं घटना के कुछ देर बाद मौके पर पहुंचे मोहलई गांव के सरपंच भरत निषाद ने बताया कि लोकल ट्रेन दुर्ग से राजनांदगांव जा रही थी. उसी ट्रेन से छात्रा ने कूदकर जान दी थी. वहां पर खेल रहे तीन बच्चों ने देखा था निषाद ने बताया कि जब वह पहुंचे तो बच्चों ने उन्हें बताया कि ट्रेन से कूदने के बाद वह करीब 5-7 मिनट तक तड़पती रही. इसके बाद उसने दम तोड़ दिया. यहां से कुछ दूरी पर रेलवे के कर्मचारी मेंटेनेंस का काम कर रहे थे. उन्होंने भी खुशबू को ट्रेन से नीचे कूदते देखा था.

ये भी पढ़ें:- नशे में था स्कूल वैन का ड्राइवर, हुआ ये बड़ा हादसा 

ये भी पढ़ें:- केयर टेकर को कमरे में बंद कर फरार हो गए पांच अपचारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुर्ग से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 20, 2019, 7:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...