गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू की सलाह- 'बारिश नहीं हो रही है तो करें भगवान की पूजा'

छत्तीसगढ़ के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू का कहना है कि वर्षों पुरानी परम्परानुसार जब बारिश नहीं होती थी तो रामसत्ता का पाठ किया जाता था.

Mithilesh Thakur | News18 Chhattisgarh
Updated: August 2, 2019, 12:44 PM IST
गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू की सलाह- 'बारिश नहीं हो रही है तो करें भगवान की पूजा'
छत्तीसगढ़ में बारिश नहीं होने की चिंता गृहमंत्री ताम्रवज साहू ने की है. फाइल फोटो.
Mithilesh Thakur
Mithilesh Thakur | News18 Chhattisgarh
Updated: August 2, 2019, 12:44 PM IST
छत्तीसगढ़ में मंत्रियों की सलाह इन दिनों चर्चा का केन्द्र बनी हुई है. आबकारी मंत्री कवासी लखमा के बाद अब प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू की एक सलाह इन दिनों सुर्खियां बंटोर रही है. छत्तीसगढ़ में बारिश नहीं होने की चिंता गृहमंत्री ताम्रवज साहू ने की है, लेकिन उन्होंने इस विकट स्थिति से निपटने के लिए भगवान की शरण में जाने की अपील ग्रामीणों से की है.

राज्य के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू का कहना है कि वर्षों पुरानी परम्परानुसार जब बारिश नहीं होती थी तो रामसत्ता का पाठ किया जाता था. आधुनिक समय में लोग इसे भूलते जा रहे हैं और यही वजह है कि बारिश नहीं हो रही है. उन्होंने एक बार फिर रामसत्ता का पाठ ग्रामीण क्षेत्रों में आरंभ करने की बात ग्रामीणों से की. ताकि मौसम की बेरूखी दूर हो और झमाझम बारिश हो.

मंत्री कवासी ने दी थी ये सलाह
बीते 1 अगस्त को प्रदेश के आबकारी मंत्री कवासी लखमा की एक सलाह भी खूम चर्चाओं में रही. धमतरी पहुंचे मंत्री कवासी लखमा ने पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर पर पलटवार करते हुए कहा कि 'अजय चंद्राकर के पेट मे दर्द है तो महुआ दारू पी लें, ठीक हो जायेगा.' दरअसल पूर्व मंत्री अजय चन्द्राकर ने राज्य की कांग्रेस सरकार की योजनाओं को लेकर बयान करते हुए तंज कसा था. इसके जवाब में ही कवासी लखमा ने पेट दर्द होने पर अजय चन्द्राकर को पेट दर्द होने पर महुआ दारू पीने की सलाह दे दी.

जुआ सट्टा को लेकर ये निर्देश
गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने सट्टा, जुआ और अवैध शराब की बिक्री मामले में भी कठोर निर्देश दिए जाने की बात कही है. साहू ने कहा कि आरोपियों के विरूद्ध अभी तक कार्रवाई होती आ रही है, लेकिन अब संबंधित थानेदार पर भी कार्रवाई होगी और जिले के एसपी को भी हिदायत दी जाएगी. यदि सुधार नहीं होता है तो कठोर कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें:- बस्तर दशहरा की 700 साल पुरानी परंपरा टूटी, राजपरिवार नाराज 
Loading...

ये भी पढ़ें:- क्यों चर्चा में है पूर्व सीएम अजीत जोगी का बंगला, जानें वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुर्ग से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 2, 2019, 12:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...