Home /News /chhattisgarh /

Chhattisgarh News: लोगों ने लगा दी साबुनों की ढाई किमी लंबी कतार, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

Chhattisgarh News: लोगों ने लगा दी साबुनों की ढाई किमी लंबी कतार, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

भिलाई के स्व वासुदेव चंद्राकर स्टेडियम में ढाई किमी लंबी साबुन की कतार  बनायी गयी

भिलाई के स्व वासुदेव चंद्राकर स्टेडियम में ढाई किमी लंबी साबुन की कतार बनायी गयी

World Record : भिलाई के उत्साही लोगों ने साबुन की लाइन बनाकर एक रिकॉर्ड कायम कर दिया. इसमें करीब 37 हजार साबुनों की ढाई किमी लंबी कतार लगायी गयी. इस रिकॉर्ड में करीब ढाई सौ लोग शामिल हुए.

दुर्ग. भिलाई के लोगों ने एक वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) बनाया. यहां इंसानों की नहीं बल्कि साबुनों की लंबी कतार लगायी गयी. इसी के साथ ये वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) का हिस्सा बन गया. इसमें करीब ढाई किमी तक साबुन रखे गए. 37 हजार से ज्यादा साबुनों का इस्तेमाल किया गया और ढाई सौ लोग इसमें शामिल हुए.

भिलाई के लोगों ने एक मजेदार रिकॉर्ड कायम किया. साबुनों की लम्बी कतार लगाकर विश्व रिकॉर्ड बना दिया. इसका आयोजन मां शारदा सामर्थय चैरिटेबल ट्रस्ट ने स्वर्गीय वासुदेव चंद्राकर क्रिकेट स्टेडियम हाउसिंग बोर्ड में किया. साबुन की सबसे लंबी कतार बनाकर एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड और  इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज किया गया.

37 हजार लोग-ढाई किमी लंबी लाइन
इस रिकॉर्ड को बनाने के लिए आज क्रिकेट मैदान देखते ही बन रहा था. यहां करीब ढाई किलोमीटर दूर तक साबुन ही साबुन नजर आ रहे थे. इसमें करीब 37 हजार से अधिक साबुनों का प्रयोग किया गया. इस काम में करीब 250 सदस्य शामिल हुए जिन्होंने यह वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए अपना महत्वपूर्ण  योगदान दिया.

ये भी पढ़ें-जनजातीय गौरव सम्मेलन : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन की प्रमुख बातें

स्वच्छता का संदेश
इस मौके पर भिलाई निगम आयुक्त प्रकाश सर्वे, दुर्ग कलेक्टर डॉ..सर्वेश्वर भूरे सहित मां शारदा चेरिटेबल ट्रस्ट के डॉ.संतोष राय, डॉ.मिटठू, सीए प्रवीण बाफना सहित टस्ट से जुड़े सभी पदाधिकारी मौजूद थे. इस अवसर पर एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड के कृष्ण कुमार गुप्ता मौजूद थे. उन्होंने निरीक्षण कर इसे विश्व रिकॉर्ड घोषित किया. अब मां शारदा सामर्थ्य चैरिटेबल टस्ट ने एशिया बुक ऑफ रिकॉर्डस और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड दोनों में ही अपना नाम दर्ज करवा लिया है.

गरीबों को साबुन
रिकॉर्ड बनाने में उपयोग किये गए साबुनों को गरीबों में बांटकर उन्हें स्वच्छता का संदेश दिया गया. ट्रस्ट के प्रमुख डॉ.संतोष रॉय ने बताया कि इस आयोजन को करने का मकसद लोगो को स्वच्छता अभियान से जोड़ना था. उन्होंने कहा इस रिकॉर्ड को बनाने मे जितने भी साबुनों का प्रयोग किया गया उन्हें गरीबो में बांट दिया गया. ताकि वो अपने कपड़े और वस्त्र साफ रख सकें.

Tags: Chhattisgarh news, Durg news, World record

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर