• Home
  • »
  • News
  • »
  • chhattisgarh
  • »
  • विधानसभा चुनाव: पार्टियों के लिए आसान नहीं है इस सीट से उम्मीदवार तय करना

विधानसभा चुनाव: पार्टियों के लिए आसान नहीं है इस सीट से उम्मीदवार तय करना

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की घोषणा होते ही राजनीतिक पार्टियों में टिकट को लेकर माथापच्ची शुरू हो गयी है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले की राजिम विधानसभा सीट के लिए उम्मीदवार तय करना किसी भी राजनीतिक पार्टी के लिए आसान नही है. टिकट के दावेदारों की लंबी फेहरिस्त ने पार्टियों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. भाजपा हो या कांग्रेस या फिर पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़, सभी पार्टियों में टिकट को लेकर मारामारी की स्थिति हैं. ऐसे में इस सीट से टिकट तय करना राजनीतिक दलों के लिए चनौती साबित हो सकती है.

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की घोषणा होते ही राजनीतिक पार्टियों में टिकट को लेकर माथापच्ची शुरू हो गयी है. राजनीतिक पार्टियों को टिकट तय करने में सबसे ज्यादा दिक्कत राजिम जैसी उन विधानसभा सीटों में हो रही है, जहां टिकट के लिए दावेदारों की लंबी लाइन लगी है. राजिम विधानसभा सीट पर भाजपा की बात की जाए तो इस बार यहां लगभग एक दर्जन दावेदारों ने टिकट के लिए ताल ठोक रखी है. सबसे अहम बात ये है कि भाजपा के सभी दावेदार अपनी टिकट पक्की मान रहे हैं.

यही नहीं किसी एक के नाम पर सहमत होने को भी तैयार नही है. हालांकि पार्टी के जिम्मेदार टिकट दावेदारों की लंबी लाइन की बात तो स्वीकार कर रहे हैं. मगर टिकट को लेकर किसी प्रकार के विवाद से इंकार कर रहे है. राजिम विधायक संतोष उपाध्याय का कहना है कि भाजपा भाजपा में विवाद जैसी कोई बात नहीं है. पार्टी द्वारा जो भी नाम तय किए जाएंगे, उसके लिए कार्यकर्ता काम करेंगे.

यह भी पढ़ें: विधानसभा चुनाव: बालोद में ग्रामीणों ने इसलिए दी चुनाव बहिष्कार की चेतावनी

कांग्रेस और जोगी कांग्रेस के हालात भी कुछ इसी तरह के हैं. कांग्रेस से 13 दावेदार मैदान में हैं. 12 दावेदार एक साथ मिलकर दावेदारी कर रहे हैं. वही अमितेष शुक्ल खुद की टिकट के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं. जोगी कांग्रेस में कई दावेदारों ने टिकट के लिए दावेदारी पेश की है. हालांकि पार्टी के पदाधिकारी मिलजुलकर टिकट तय करने का दावा कर रहे है. कांग्रेस के आबिद ढेबर का कहना है कि पार्टी ने आवेदन मंगाए थे, इसलिए लोगों ने अपनी इच्छा जताई है. अब पार्टी जिसे प्रत्याशी तय करेगी, उसके साथ कार्यकर्ता होंगे. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ नुरुल रिजवी का कहना है कि पार्टी आलाकमान ही टिकट पर निर्णय करेगी.

यह भी पढ़ें: विधानसभा चुनाव: दुर्ग कलेक्टर के इस आदेश को पूरे प्रदेश में लागू करने की मांग  

यह भी पढ़ें: सर्वे: छत्तीसगढ़-राजस्थान और मध्य प्रदेश में BJP को करारा झटका, कांग्रेस की हो सकती है वापसी 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज