Home /News /chhattisgarh /

1600 रुपये का मोबाइल टूटने से हताश युवक ने पेट्रोल डाल खुद को लगा ली आग, इलाज के दौरान मौत

1600 रुपये का मोबाइल टूटने से हताश युवक ने पेट्रोल डाल खुद को लगा ली आग, इलाज के दौरान मौत

Chhattisgarh News: गरियाबंद के देवभोग थाने में युवक की मौत मामले की जांच की जा रही है.

Chhattisgarh News: गरियाबंद के देवभोग थाने में युवक की मौत मामले की जांच की जा रही है.

Gariaband Crime News: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के गरियाबंद में एक युवक की मौत आग में जलने के कारण हो गई. तहसीलदार को आरोपी ने दिए अपने बयान में बताया था कि 1600 रुपये का मोबाइल फोन विवाद में टूट गया था, जिसका हर्जाना नहीं मिलने के कारण उसने खुद को आग लगा ली. इसके बाद उसे इलाज के लिए रायपुर में भर्ती कराया गया था.

अधिक पढ़ें ...

गरियाबंद. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के गरियाबंद (Gariband) में महज 1600 रुपये का मोबाइल देवभोग के फोकटपारा निवासी बस कंडेक्टर 40 वर्षीय रफीक उर्फ डबलू की मौत का कारण बन गया. रफीक का किसी बात को लेकर 30 अक्टूबर को अपने पड़ोसी फल विक्रेता डमरू सिन्हा के साथ विवाद हुआ था, जिसमें उसका मोबाइल फोन (Mobile Phone) टूट गया था. रफीक चाहता था कि डमरू उसके मोबाइल का हर्जाना दे, मगर जब ऐसा नहीं हुआ तो रफीक ने खुद पर पट्रोल छिड़ककर आग लगा ली. बीते 4 नवंबर को मेकाहारा में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी.

देवभोग पुलिस (Devbhog Police) के मुताबिक डमरू सिन्हा से झगड़े के बाद 31 अक्टूबर को रफीक ने पट्रोल डालकर खुद को आग लगा ली थी. हादसे में रफीक बुरी तरह जल गया था। उसे तत्काल देवभोग सरकारी असपताल में भर्ती कराया गया. स्थिति गंभीर होने के कारण डॉक्टरों ने उसे रायपुर रिफर कर दिया जहां इलाज के दौरान 4 नवंबर को उसकी मौत हो गयी. देवभोग नायब तहसीलदार अभिषेक अग्रवाल की मौजूदगी में रफीक का ब्यान दर्ज किया गया है. जिसमे उसने पड़ोसी डमरू सिन्हा के साथ विवाद होने की बात कही है.

केला ढोने को लेकर विवाद
रफीक द्वारा नायाब तहसीलदार के समक्ष दिए ब्यान के मुताबिक उसका केला ढोने को लेकर डमरू से विवाद हुआ था. इस दौरान उसके मोबाइल फोन का कीपैड मोबाइल टूट गया था. वह डमरू से अपने टूटे हुए मोबाइल का हर्जाना चाहता था, लेकिन डमरू हर्जाना देने को तैयार नही था. इसलिए उसने तैश में आकर खुदकुशी करने का फैसला लिया. रफीक के ब्यान के आधार पर देवभोग पुलिस ने डमरू सिन्हा के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर लिया है. थाना प्रभारी विकास बघेल ने बताया कि फिलहाल मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है.

मामले में फिलहाल आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. वही आसपास पड़ोस के लोगो के मुताबिक रफीक झगड़ालू किस्म का इंसान था. उसका अक्सर लोगो के साथ विवाद होता रहता था. डमरू सिन्हा से भी उसका कई बार विवाद हो चुका था. मामले में रफीक द्वारा पट्रोल डालकर खुदकुशी करने से पहले कांच पीसकर खाने और जहर पीने की बात भी कही जा रही है. मगर फिलहाल इसकी पुष्टि नही हुई है. देवभोग पुलिस पीएम रिपोर्ट के बाद ही इस पर कुछ बोलने की बात कह रही है.

Tags: Burn alive, Chhattisgarh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर