Home /News /chhattisgarh /

5 दिन से भूख हड़ताल पर बैठे युकां और एनएसयूआई ने स्वास्थ्य मंत्री का फूंका पुतला

5 दिन से भूख हड़ताल पर बैठे युकां और एनएसयूआई ने स्वास्थ्य मंत्री का फूंका पुतला

छत्तीसगढ़ युवा कांग्रेस और एनएसयूआई ने स्वास्थ्य मंत्री का फूंका पुतला

छत्तीसगढ़ युवा कांग्रेस और एनएसयूआई ने स्वास्थ्य मंत्री का फूंका पुतला

गरियाबंद जिले में छत्तीसगढ़ युवा कांग्रेस और एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने जिला स्वास्थ्य केंद्र में भ्रष्टाचारी नीति से फर्जी एएनएम भर्ती के विरोध में स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर का पुतला फूंका है.

    छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में छत्तीसगढ़ युवा कांग्रेस और कांग्रेस के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के कार्यकर्ता फर्जी एएनएम भर्ती मामले के विरोध में पिछले 5 दिनों से भूख हड़ताल पर बैठे हैं. ऐसे में अब तक प्रशासन द्वारा सकारात्मक पहल नहीं होने पर उन्होंने आज स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर का पुतला फूंका है.

    दरअसल, नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री पर एएनएम भर्ती फर्जीवाड़े की जानकारी होने के बाद भी कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है.

    इतना ही नहीं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंत्री पर एएनएम भर्ती फर्जीवाड़े में शामिल होने का भी आरोप लगाया है. मामले में युकां के ब्लॉक अध्यक्ष अमित मिरी ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री शुरू से ही इस मामले में चुप्पी साधे बैठे हैं और कांग्रेस इस मामले को शुरू से उठा रही है. ऐसे में उन्होंने कार्रवाई नहीं होने तक मामले को उठाने की बात कही है.

    वहीं युकां के जिला अध्यक्ष संदीप सरकार ने कहा कि वे पिछले 5 दिनों से अपनी मांग को लेकर भूख हड़ताल पर हैं. जिला स्वास्थ्य केंद्र में 14 के बजाय 41 फर्जी एएनएम भर्ती मामले में भ्रष्टाचारी नीति के तहत कार्य किया गया है. लिहाजा, इस पर अभी तक प्रशासन की तरफ से इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं किए जाने से वे बेहद नाराज हैं. इसी वजह से आज उन्होंने अपने गुस्से को जाहिर करते हुए स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर का पुतला दहन किया है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर