गुब्बारे बेचने वाले की बेटी ने योग में मचाया धमाल, यूरोप में जीते दो मेडल

छत्तीसगढ़ में योग की ब्रांड एम्बेसडर दामनी साहू ने बुल्गारिया में हुए वर्ल्ड योग फ़ेस्टिवल एंड चैंपियनशिप में दो सिल्वर मेडल जीते हैं.

Krishna Kumar Saini | News18 Chhattisgarh
Updated: July 8, 2019, 8:09 AM IST
गुब्बारे बेचने वाले की बेटी ने योग में मचाया धमाल, यूरोप में जीते दो मेडल
दामनी साहू ने योग में मचाया धमाल, यूरोप में जीते दो मेडल
Krishna Kumar Saini
Krishna Kumar Saini | News18 Chhattisgarh
Updated: July 8, 2019, 8:09 AM IST
छत्तीसगढ़ में योग की ब्रांड एम्बेसडर दामनी साहू ने दुनिया में एक बार फिर प्रदेश और देश का नाम रोशन किया है. 28 से 30 जून के बीच बुल्गारिया में हुए 4th वर्ल्ड योग फ़ेस्टिवल एंड चैंपियनशिप में दामनी ने दो सिल्वर मेडल जीते हैं. 7 कैटेगिरी में हुई इस प्रतियोगिता में चीन, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड सहित 16 देशों के खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था.

दामनी साहू का हुआ जोरदार स्वागत

भारत से भी 19 खिलाड़ियों ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया, जिसमें छत्तीसगढ़ से तीन खिलाड़ी शामिल हुए. कोच संतोष आनंद राजपूत के मार्गदर्शन में दामनी सहित धीरेंद्र और तोरण ने भी इस प्रतियोगिता में मेडल हासिल किए हैं. प्रदेश के तीनों खिलाड़ियों ने अलग-अलग कैटेगरी में सिल्वर मेडल अपने नाम किए. मेडल जीत कर घर लौटी दामनी साहू का उनके शुभचिंतकों ने जोरदार स्वागत किया है. मीडिया से बातचीत में दामनी ने कहा कि वे विश्व में योग को बढ़ावा देने के लिए काम करना चाहती हैं.

पिता ने मजदूरी कर बेटी को बनाया चैंपियन

दामिनी के मुताबिक, वह योग में ही करियर बनाना चाहती हैं और अपने पैरों पर खड़ी होना चाहती हैं. बता दें कि दामिनी के पिता परदेशीराम साहू एक हाथ से दिव्यांग हैं. इसके बाद भी वे गोदी-मजदूरी और मेले-मड़ई में गुब्बारा बेचकर परिवार का भरण पोषण करते हैं. बावजूद इसके उन्होंने अपनी बेटी को गरीबी और तंगहाली के बावजूद शिक्षा दिलाई, जिससे वह इस काबिल बन सकीं की उन्‍होंने अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर परिवार के साथ देश का नाम रोशन किया.

यह भी पढ़ें- इन दोनों बहनों ने बिलासपुर का नाम किया रोशन, ताइक्वांडो में जीते मेडल

यह भी देखें- VIDEO: गरियाबंद की इन खिलाड़ियों ने अंतर्राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में जीता मेडल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गरियाबंद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 8, 2019, 7:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...