लाइव टीवी

किसानों से किए गए वादे पूरे नहीं करने पर पूर्व कृषि मंत्री चंद्रशेखर साहू ने मांगी माफी

Krishna Kumar Saini | News18 Chhattisgarh
Updated: February 5, 2019, 4:59 PM IST

पूर्व कृषि मंत्री चंद्रशेखर साहू ने गरियाबंद के चिखली गांव में किसान संवाद कार्यक्रम के दौरान अपनी पार्टी की सरकार द्वारा किसानों से किए वादे को पूरे नहीं करने पर माफी मांगी है.

  • Share this:
बीजेपी के वरिष्ठ नेता और छत्‍तीसगढ़ के पूर्व कृषि मंत्री चंद्रशेखर साहू ने गरियाबंद के चिखली गांव में किसान संवाद कार्यक्रम के दौरान अपनी पार्टी की सरकार द्वारा किसानों से किए गए वादे को पूरा नहीं करने पर माफी मांगी है. माफी मांगने के बाद मीडिया से बातचीत में चंद्रशेखर साहू ये बताने में जरा भी नहीं हिचकिचाए कि उनकी पार्टी की सरकार किसानों की नब्ज टटोलने में नाकामयाब रही.

चंद्रशेखर साहू ने कहा कि किसानों को दो साल का बोनस नहीं देने का खामियाजा उनकी पार्टी को सत्ता गंवाकर चुकाना पड़ा है. हालांकि उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार में किसानों को तवज्जो देने पर खुशी जाहिर करते हुए आगामी लोकसभा चुनाव में मोदी के फिर से सत्ता में लौटने का भरोसा जताया है. साथ ही कांग्रेस के 'नरवा (नाला), गरवा (गाय), घुरवा (जैविक खाद) और बाड़ी (खेत) के नारे के जवाब में नया नारा 'कोठी, कोठा-कोठार, सब किसानों को जोहार' का नारा देकर दिया है.

बहरहाल, पूर्व कृषि मंत्री चंद्रशेखर साहू के ऐसा करने से पार्टी को फायदा होता है या नुकसान, ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा. फिलहाल इतना तो तय है कि ऐसा कर वे जनता के दिल में बीजेपी के खिलाफ भरे गुबार को निकालने में जरूर कामयाब हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें:- सिंहदेव के सुपेबेड़ा दौरे से पहले विपक्ष ने उठाया सवाल, कहा- CM को भी आना चाहिए

ये भी पढ़ें:- 10 साल पहले स्वीकृत हुई थी राशि, पर नहीं बना आंगनबाड़ी केंद्र का भवन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गरियाबंद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2019, 11:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर