लाइव टीवी

VIDEO: घर वालों की डांट के डर से भागी नाबालिग, किन्नर के कारण सकुशल पहुंची घर
Gariaband News in Hindi

Krishna Kumar Saini | News18 Chhattisgarh
Updated: January 13, 2019, 4:19 PM IST

गरियाबंद में एक नाबालिग छात्रा घर के 13 हजार रुपए खर्च करने के बाद डांट के डर से गत 29 दिसंबर को घर छोड़कर चली गई थी. एक किन्नर की मदद से पुलिस नाबालिग को बिलासपुर से बरामद कर घर वापस ले आई है.

  • Share this:
बच्चे नादानी में अकसर गलत कदम उठा लेते हैं और कई बार उनको इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ता है. ऐसा ही एक मामला छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में सामने आया है. मामला देवभोग थाना क्षेत्र के चिचिया गांव का है. सामान्य परिवार की एक नाबालिग छात्रा ने परिवार वालों को बिना बताए पहले तो घर में रखे 20 हजार रुपए में से 13 हजार खर्च कर दिए. जब परिजनों को इस बात का पता चला तो डांट-फटकार से बचने के लिए छात्रा गत 29 दिसंबर को घर छोड़कर कहीं चली गई. हालांकि मामले में राहत की बात यह रही कि छात्रा सकुशल घर वापस लौट आई है. देवभोग पुलिस उसे बिलासपुर से लेकर पहुंच गई है. बिलासपुर की एक किन्नर ने छात्रा को घर सकुशल वापस भेजने में काफी मदद की है.

मामले में देवभोग थाना प्रभारी सत्येंद्र श्याम ने बताया कि छात्रा घर छोड़ने के बाद रायपुर पहुंची और फिर वहां रात में रुकने के बाद अगले दिन ट्रेन पकड़कर बिलासपुर पहुंच गई. नाबालिग छात्रा को ट्रेन में गुमसुम बैठा देखकर किन्नर रेहाना को शक हुआ और वह उसे अपने घर ले गई. रेहाना ने छात्रा को बेटी की तरह अपने घर पर रखा और फिर फोन पर परिजनों को उसके सकुशल होने की जानकारी दी.

फिलहाल, देवभोग पुलिस ने छात्रा को उसके परिजनों के हवाले कर दिया है. संबंधित मामले में किन्नर रेहाना ने जिस तरह छात्रा की मदद की है, वह सच में काबिले तारिफ है. लिहाजा, गरियाबंद पुलिस रेहाना का सम्मानित करने की योजना बना रही है.

ये भी पढ़ें:- फर्जी तरीके से टोकन लेकर ओडिशा का धान बिकवा रहे देवभोग के कुछ किसान

ये भी पढ़ें:- नशे में धुत होकर पढ़ा रहे थे ये मास्टरजी, औचक निरीक्षण में तीन शिक्षक निलंबित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गरियाबंद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2019, 11:27 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर