मकर संक्रांति पर त्रिवेणी संगम में डुबकी लगाने पहुंचे श्रद्धालु, पानी कम देख हुए निराश

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में आज मकर संक्रांति बड़े ही धूमधाम से मनाई जा रही है. आज के दिन पवित्र नदियों में मकर स्नान और दान करना शुभ माना जाता है.

Krishna Kumar Saini | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 2:08 PM IST
मकर संक्रांति पर त्रिवेणी संगम में डुबकी लगाने पहुंचे श्रद्धालु, पानी कम देख हुए निराश
मकर संक्रांति पर त्रिवेणी संगम में डुबकी लगाने पहुंचे श्रद्धालु, पानी कम देख हुए निराश
Krishna Kumar Saini
Krishna Kumar Saini | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 2:08 PM IST
छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में आज मकर संक्रांति बड़े ही धूमधाम से मनाई जा रही है. आज के दिन पवित्र नदियों में मकर स्नान और दान करना शुभ माना जाता है. हिंदू धर्म में खासकर उतर भारत में यह त्योहार बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है. छत्तीसगढ़ में भी इस त्योहार को बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है.

वहीं इसी क्रम में राजिम के त्रिवेणी संगम में इसका खासा असर देखने को मिलता है. दूर दराज से हजारों की संख्या में श्रद्धालु यहां त्रिवेणी संगम में स्नान करने के लिए पहुंचते हैं. इसी क्रम में रविवार को भी सुबह सूरज निकलने से पहले ही यहां पर श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला जारी है.

श्रद्धालुओं ने त्रिवेणी संगम में स्नान कर कलेश्वरनाथ मंदिर में दर्शन करने के बाद दान पुण्य किया. वहीं त्रिवेणी संगम में पानी की कमी के कारण बाहर से आए कई श्रद्धालुओं को काफी निराश भी होना पड़ा.

श्रद्धालुओं के मुताबिक राजिम त्रिवेणी को वे बहुत श्रद्धा और सम्मान की नजरों से देखते हैं, लेकिन यहां फैली अव्यवस्थाओं को देखरकर वे बेहद हताश और निराश हैं. श्रद्धालुओं का कहना है कि नदियों में पानी इतना गंदा है कि उसमें उतरने की इच्छा ही नहीं हुई. इसलिए उन्होंने नदी के पानी से बस खुद पर छिड़काव कर नियमतः पूजा पाठ की.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर