यहां शौचालय बनने के एक साल बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिली राशि

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालयों और शासन से मिलने वाली विभिन्न प्रकार की पेंशन राशि समय पर न मिलना यहां के लिए आम बात हो गई है.

Krishna Kumar Saini | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 12:38 PM IST
यहां शौचालय बनने के एक साल बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिली राशि
यहां शौचालय बनने के एक साल बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिली राशि
Krishna Kumar Saini | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 12:38 PM IST
छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालयों और शासन से मिलने वाली विभिन्न प्रकार की पेंशन राशि समय पर न मिलना यहां के लिए आम बात हो गई है. हालांकि ग्रामीण राशि की मांग को लेकर आए दिन सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटते नजर आते हैं, लेकिन बार बार शिकायत किए जाने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं की जाती है. ताजा मामला गरियाबंद विकासखंड के पीपरछेडी पंचायत का है.

दरअसल,  गरियाबंद विकासखंड के पीपरछेडी पंचायत के ग्रामीणों ने अपने पैसे से सालभर पहले घरों में शौचालय तो बना लिए हैं, लेकिन उन शौचालयों की राशि उन्हें अभी तक नहीं मिली है. इतना ही नहीं उमका गांव ओडीएफ भी घोषित हो चुका है. बावजूद इसके ग्रामीणों को अभी अनुदान राशि नहीं दी गई है.

इतना ही नहीं वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित पेंशन भी यहां के हितग्राहियों को पिछले 4 माह से नहीं मिली है. ऐसे में अब पीड़ित ग्रामीण राशि की मांग को लेकर जनपद और कलेक्टर दफ्तर के चक्कर काट रहे हैं. बावजूद इसके ग्रामीणों की समस्या का समाधान होता नजर नहीं आ रहा है.

वहीं पंचायत सचिव गैंदलाल ने राशि नहीं आने की बात कहकर मामले से अपना पल्ला झाड़ लिया है. वहीं संबंधित मामले में पूछे जान पर ऊपर के अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है. हालांकि उन्होंने बाकी राशि पर भुगतान करने की बात कही है.
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Chhattisgarh News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर