जब यातायात थाने में पदस्थ आरक्षक ने दी नक्सली बनने की धमकी !
Janjgir News in Hindi

जब यातायात थाने में पदस्थ आरक्षक ने दी नक्सली बनने की धमकी !
दोषी आरक्षक पुष्पराज सिंह

जांजगीर-चांपा जिले के यातायात थाने में पदस्थ आरक्षक ने प्रताड़ित करने पर नौकरी छोड़कर नक्सली बनने की चेतावनी दी है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ में जांजगीर-चांपा जिले के यातायात थाने में पदस्थ आरक्षक ने प्रताड़ित करने पर नौकरी छोड़कर नक्सली बनने की चेतावनी दी है. ये चेतावनी आरक्षक ने फोन कर पुलिस अधिकारियों को दी है. फोन पर हुए बातचीत का ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया में वायरल हुआ है. दरअसल, मुंगेली जिले के रहने वाले आरक्षक पुष्पराज सिंह की भर्ती जांजगीर जिले में आरक्षक के पद पर हुई थी.

अभी जांजगीर में पुलिस विभाग की यातायात शाखा में आरक्षक पुष्पराज सिंह की पदस्थपना है. आरक्षक पुष्पराज सिंह लंबे समय से बिना किसी अनुमति के ड्यूटी से गैरहाजिर है, जिसकी वजह से जांजगीर से एक एएसआई नोटिस लेकर आरक्षक पुष्पराज के घर मुंगेली पहुंचा. वहीं आरक्षक पुष्पराज ने नोटिस लेने से इंकार कर दिया. इस पर जांजगीर एसडीओपी जितेंद्र चंद्राकर और जांजगीर एसपी नीतू कमल ने आरक्षक से फोन पर बात की, जिसमें उसने नोटिस लेने से इंकार कर दिया. साथ ही पुलिस पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए माओवादी या नक्सलवादी संगठन में शामिल होने की धमकी दे डाली.

फिलहाल, जांजगीर एसपी नीतू कमल ने इस मामले को लेकर आरक्षक पुष्पराज को अनुशासनहीनता के कारण बर्खास्त कर दिया है. वहीं आरक्षक पुष्पराज के उपर पुलिस परिवार द्वारा प्रदर्शन कर रहे परिवार को शासन प्रशासन के खिलाफ भड़काने का भी आरोप है.



आरक्षक पुष्पराज और जांजगीर एसडीओपी जितेंद्र चंद्राकर के बीच हुई बातचीत की सोशल मीडिया पर वायरल हुई ऑडियो क्लिप से पूरा पुलिस महकमा सकते में है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading