2 साल पहले पुलिस कस्टडी से फरार हुआ बंदी और ससुर गिरफ्तार
Janjgir News in Hindi

2 साल पहले पुलिस कस्टडी से फरार हुआ बंदी और ससुर गिरफ्तार
2 साल पहले पुलिस कस्टडी से फरार हुआ बंदी और ससुर गिरफ्तार

जांजगीर चांपा जिले के जिला हॉस्पिटल से 2 साल पहले फरार हुए बंदी और उसके मामा ससुर को चोरी की बाइक के साथ कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ में जांजगीर चांपा जिले के जिला हॉस्पिटल से 2 साल पहले फरार हुए बंदी और उसके मामा ससुर को चोरी की बाइक के साथ कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल, जिला जेल में सजा काट रहा बंदी हरिचरण कश्यप पर आईपीसी की धारा 420, 506 (बी) 34 के तहत अपराध दर्ज है. इसी क्रम में बीते 16 जून 2016 को जेल में बंद कैदी हरिचरण की तबीयत बिगड़ने पर जिला जेल से उसे जांजगीर के जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था.

लिहाजा, इसी का फायदा उठाकर इलाज के दौरान आरोपी हरिचरण पुलिस को चकमा देकर जिला हॉस्पिटल से फरार हो गया था. इसके बाद कोरबा जिले के उरगा में अपने मामा ससुर के यहां जाकर रहने लगा था. इस दौरान जांजगीर पुलिस को अपने लगाए मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी कोरबा जिला स्थित उरगा गांव में अपने मामा ससुर के यहां छिपकर रह रहा है. इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी कर हरिचरण कश्यप को मौके से धर दबोच लिया.

मामले में जांजगीर थाना प्रभारी शीतल सिदार ने बताया कि हरिचरण एक आदतन अपराधी है. जिले के कई थानों में हरिचरण के खिलाफ विभिन्न मामलों में केस दर्ज हैं. उन्होंने बताया कि घेराबंदी कर पकड़े जाने के दौरान हरिचरण कश्यप और उसका मामा ससुर जिस गाड़ी का उपयोग कर रहे थे, वह गाड़ी भी चोरी की ही निकली. फिलहाल, पुलिस ने चोरी की बाइक के हरिचरण कश्यप और उसके मामा ससुर को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही दोनों को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेजा दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज