जांजगीर में स्वास्थ्य सेवा चरमराई, इलाज को परेशान मरीज
Janjgir News in Hindi

जांजगीर में स्वास्थ्य सेवा चरमराई, इलाज को परेशान मरीज
जांजगीर में स्वास्थ्य सेवा चरमराई, डॉक्टर अस्पताल के बजाय निजी क्लीनिकों में बिता रहे समय

जांजगीर (छत्तीसगढ़) जिले के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है. उप स्वास्थ्य केंद्र में बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर ग्रामीण बेहद परेशान हैं.

  • Share this:
जांजगीर (छत्तीसगढ़) जिले के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है. उप स्वास्थ्य केंद्र में बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर ग्रामीण बेहद परेशान हैं.

ग्रामीणों की शिकायत के बाद जब जर्वे ब्लॉक के उप स्वास्थ्य केंद्र का जायजा लिया, तो कई चौंकाने वाली बात सामने आईं. स्वास्थ्य केंद्र में रूरल मेडिकल असिस्टेंट (आरएमए) समेत 8 लोगों की पोस्टिंग हुई है, लेकिन मेडिकल स्टाफ अस्पताल में ड्यूटी पर मौजूद नहीं था.

अस्पताल के वार्ड ब्वाय अजय सिंह राठौर ने बताया कि आरएमए समेत सभी 8 स्टाफ लगातार आ रहा है. वार्ड ब्वाय ने बताया कि सभी ड्यूटी पर हैं और कुछ टीकाकरण के लिए गए हैं तो कुछ भोजन अवकाश पर हैं. हालांकि अस्पताल में इलाज के लिए ग्रामीणों ने कि यहां का मौजूदा स्टाफ मनमानी का शिकार है. अस्पताल के खुलने और बंद होने का कोई समय निर्धारित नहीं है.



'स्टाफ कभी कभार ही अस्पताल आते हैं'
ग्रामीणों की मानें तो अस्पताल में तैनात डॉक्टर और बाकी स्टाफ कभी कभार ही अस्पताल आते हैं. ग्रामीणों को इलाज के लिए दूसरे अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों में भटकना पड़ता है. चीफ मेडिकल एंड हेल्थ ऑफिसर इनचार्ज (सीएमएचओ)  ने इस बारे में कहा कि इस संबंध जांच के बाद ही वह कुछ भी टिप्पणी कर पाएंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading