बेमौसम बारिश से छलका किसानों का दर्द, कहा- 'नुकसान की भरपाई करवा दे सरकार'
Janjgir News in Hindi

बीते दो दिनों तक हुई बेमौसम बारिश ने किसानों की चिंता इस कदर बढ़ा दी है कि किसानों का दर्द आंखों से छलकने लगा है. जांजगीर के किसान कांग्रेस सरकार के कर्ज माफी से जितना खुश थे, उससे कहीं ज्यादा मौसम की बेरुखी से परेशान हो गए हैं.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ में बेमौसम बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है. बता दें कि बेमौसम बारिश और मौसम की बेरुखी का दर्द जांजगीर चांपा जिले के किसानों की आंखों से आंसू बनकर बरसने लगा है. बीते दो दिनों तक हुई बेमौसम बारिश ने किसानों की चिंता इस कदर बढ़ा दी है कि किसानों का दर्द आंखों से छलकने लगा है. जांजगीर के किसान कांग्रेस सरकार के कर्ज माफी से जितना खुश थे, उससे कहीं ज्यादा मौसम की बेरुखी से परेशान हो गए हैं. उनका कहना है कि सरकार की कर्ज माफी से वे बहुत खुश थे, लेकिन  बेमौसम बारिश ने उनकी सारी खुशियां छीन लीं हैं. अगर सरकार बेमौसम बारिश से होने वाले नुकसान की भरपाई करवा दे, शायद तो कुछ राहत मिलेगी.

जिले के अधिकतर किसानों के कुछ ऐसे ही हालात हैं. परिवार के 4 महीने की मेहनत पर पानी फिर गया है. मंडियों में बेचने के बाद खलिहानों में रखा धान बारिश में भीगकर बर्बाद हो गया है. अपने सीमित साधन से किसान और समिति प्रभारी धान को ढककर बचाने का प्रयास कर रहे हैं. बावजूद इसके तीन दिन की बारिश के आगे उनके प्रयास नाकाम साबित हो गए. अब नुकसान को लेकर किसान सहम गए हैं. वहीं होने वाले नुकसान का जायजा लेने के लिए जिले के अधिकारी धान खरीद केंद्रों का निरीक्षण कर रहे हैं.

इस दौरान किसानों ने अपना दर्द और अपनी तकलीफ बताते हुए यह मांग रखी है कि सरकार से अगर कुछ मदद मिला जाए, तो उन्हें बड़ी राहत मिल जाएगी. किसान अब शासन-प्रशासान के अधिकारियों और सरकार से मदद की उम्मीद लगाए बैठे हैं.



ये भी पढ़ें:- लोकसभा चुनाव के लिए बसपा ने शुरू किया होमवर्क, मायावती रख रही नजर
ये भी देखें:- VIDEO- जांजगीर: तालाब ने पहले उगली औरत की लाश, फिर दो बच्चों की
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज