जीजा ने साली की कर दी थी हत्या, एक महीने के बाद सिर बरामद

छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा जिले में एक महीने पहले एक महिला का शव मिला था. पुलिस ने इस मामले में चौंकाने वाला खुलासा किया है.

Rohit Shukla | News18 Chhattisgarh
Updated: May 16, 2019, 8:17 PM IST
जीजा ने साली की कर दी थी हत्या, एक महीने के बाद सिर बरामद
Demo Pic.
Rohit Shukla | News18 Chhattisgarh
Updated: May 16, 2019, 8:17 PM IST
छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा जिले में एक महीने पहले टुकड़ों में एक महिला का शव बरामद होने के मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. पुलिस का दावा है कि जमीन विवाद में महिला के जीजा ने उसकी हत्या कर दी थी. इसके बाद उसके सहयोगियों ने शव के टुकड़े-टुकड़े कर जला दिए थे. पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों की निशानदेही पर एक महीने बाद शव का सिर बरामद किया गया है.

जिले के चांपा थाना क्षेत्र के डोंगाघाट में रहने वाली नीतू मित्तल 24 अप्रैल 2019 से घर से लापता थी. उसकी बड़ी बहन उमा मित्तल ने इस बाबत चांपा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस मामला दर्ज कर नीतू मित्तल की तलाश जुट गई थी. इसी दौरान पुलिस को चांपा थाना क्षेत्र के ग्राम केरा झरिया में किसी अज्ञात महिला का सिर कटा हुआ शव टुकड़ों-टुकड़ों में अधजली अवस्‍था में 28 अप्रैल को मिले थे. सिर कटी हुई और बोरियों में भरी अधजली लाश मिलने से पुलिस भी सकते में थी और मामले की विवेचना कर रही थी.



मामले की छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि यह शव लापता महिला नीतू मित्तल की है. पुलिस ने मामले की फिर से विवेचना शुरू की तो इस बात का खुलासा हुआ कि संपत्ति के लालच में नीतू मित्तल का जीजा पुरुषोत्तम मित्तल और भतीजा मयंक मित्तल ने ही उन्‍हें अपने क्रशर में बुलाकर उनकी हत्या कर दी थी.

पुलिस के मुताबिक, हत्या के बाद नीतू के शव को ठिकाने लगाने की जिम्‍मेदारी चांपा के दो युवक छोटू पठान और सुदीप मित्तल को दी गई थी. इन दोनों आरोपियों ने उसके शव को काटकर बोरियों में भरकर जला दिया था. आरोपियों ने उसके सिर को पेट्रोल छिड़ककर दूसरी जगह पर जला कर फेंक दिया था. आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने नीतू मित्तल के सिर का कंकाल बरामद कर लिया है और चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजा दिया गया है.

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के इन आदिवासियों से 'न्याय' करना भूल गई सरकार? 

ये भी पढ़ें: आदिवासियों पर दर्ज प्रकरणों पर समीक्षा समिति की बैठक, अधिकारियों को मिली जिम्मेदारी 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...