देखरेख के अभाव में एंबुलेंस कबाड़ में तब्दील, अब विभाग करेगा नीलामी
Jashpur News in Hindi

देखरेख के अभाव में एंबुलेंस कबाड़ में तब्दील, अब विभाग करेगा नीलामी
देखरेख के अभाव में एंबुलेंस कबाड़ में तब्दील, अब विभाग करेगा नीलामी

जशपुर जिले के सरकारी अस्पतालों में मरीजों की सुविधा के लिए उपयोग में आने वाले एंबुलेंस और अन्य वाहन देखरेख के अभाव में कबाड़ में तब्दील हो रहे हैं. उपयोग में नहीं आने की वजह से ये वाहन अब पूरी तरह बेकार हो चुके हैं. वहीं विभाग अब इन वाहनों को नीलाम करने की बात कह रहा है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ में जशपुर जिले के सरकारी अस्पतालों में मरीजों की सुविधा के लिए उपयोग में आने वाले एंबुलेंस और अन्य वाहन देखरेख के अभाव में कबाड़ में तब्दील हो रहे हैं. उपयोग में नहीं आने की वजह से ये वाहन अब पूरी तरह बेकार हो चुके हैं. वहीं विभाग अब इन वाहनों को नीलाम करने की बात कह रहा है.

जिले के अस्पतालों में शासन की तरफ से एंबुलेंस और अन्य वाहन मरीजों की सुविधाओं के लिए प्रदान किए गए थे, लेकिन अधिकारियों की लापरवाही और देखरेख के अभाव में करोड़ों के ये सारे वाहन अब कबाड़ में तब्दील हो चुके हैं. इनका अब कोई उपयोग नहीं रह गया है. वाहनों के कंडम हो जाने के बाद अब विभाग में वाहनों की कमी हो गई है, जिसकी वजह से अब विभाग किराए के वाहनों से काम चला रहा है.

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मानें तो इन वाहनों की नीलामी की प्रक्रिया चल रही है और बहुत ही जल्द इन वाहनों को नीलाम कर दी जाएगी. हालांकि बड़ा सवाल यह है कि क्या नीलामी के बाद से फिर से विभाग को इतनी संख्या में वाहन मिल पाएंगे.



वहीं स्थानीय निवासी और जनप्रतिनिधियों की मानें तो वो इसे विभाग की घोर लापरवाही मानते हैं. इसे सरकार का एक बड़ा नुकसान बताकर ऐसे लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की बात कह रहे हैं.
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज