Corona Virus की दहशतः सब्जियों से भी सस्ता बिक रहा चिकन, कारोबारियों को हो रहा नुकसान!
Jashpur News in Hindi

Corona Virus की दहशतः सब्जियों से भी सस्ता बिक रहा चिकन, कारोबारियों को हो रहा नुकसान!
कोरोना वायरस की दहशत में लोग चिकन खाने से भी परहेज कर रहे हैं. सांकेतिक फोटो.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के जशपुर (Jashpur) जिले में कोरोना वायरस (Corona Virus) का खासा असर चिकन कारोबार पर पड़ा है. गोभी, भिंडी, करेला या कटहल के मुकाबले चिकन सस्ता बिक रहा है.

  • Share this:
जशपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के जशपुर (Jashpur) जिले में कोरोना वायरस (Corona Virus) की दहशत का असर चिकन कारोबार पर पड़ा है. ब्रॉयलर चिकन (Chicken) से कोरोना वायरस फैलने की खबरों से मुर्गा व्यवसाय बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. जशपुर जिले में थोक में 15 रुपए और खुदरा 30 रुपए प्रति किलो तक ब्रॉयलर मुर्गा बिक रहा है. जबकि मौसमी सब्जियां जैसे गोभी, भिंडी, करेला, कटहल व अन्य की कीमत 30 से 60 रुपए किलो तक है. एक अनुमान के मुताबिक कोरोना वायरस की अफवाह से जशपुर जिले में 20 करोड़ रुपए से अधिक का नुकसान मुर्गा व्यापारियों को हुआ है.

जशपुर जिले समेत पूरे प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है, लेकिन कोरोना वायरस को लेकर जशपुर में फैली अफवाह से जरूर लोगों में दहशत का माहौल है. कोरोना वायरस को लेकर फैली अफवाह की वजह से जशपुर का चिकन कारोबार बुरी तरह प्रभावित हुआ है. आमतौर पर थोक में 80 और खुदरा में 120 रुपए प्रति किलोग्राम बिकने वाला ब्रॉयलर चिकन इन दिनों थोक में 15 और चिल्हर में 30 रुपए प्रति किलो की दर से बिक रहा है.

चिकन खाने से कतरा रहे लोग
ब्रॉयलर चिकन के दामों में भारी गिरावट के बावजूद ग्राहक चिकन खाने से कतरा रहे हैं. कोरोना वायरस को लेकर फैली अफवाह की वजह से मुर्गा व्यवसाय प्रभावित हो रहा है. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे मैसेज इस अफवाह को और बढ़ा रहे हैं. इसकी वजह से लोग ब्रॉयलर चिकन खाने से कतरा रहे हैं. इससे चिकन कारोबारियों की चिंता बढ़ गई है. जशपुर जिले के कई कारोबारियों ने बताया कि होली में चिकन का कारोबार हर साल बढ़ता है, लेकिन इस बार कोरोना वायरस की अफवाहों से भारी नुकसान की आशंका है. इधर, जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस को लेकर फैली अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है. जशपुर के कलेक्टर नीलेश क्षीरसागर ने आम लोगों से अपील की है कि लोग अफवाहों पर ध्यान ना दें, बल्कि सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को मानें.
चिकन-मटन खाएं, लेकिन इन बातों का रखें ध्यान


पूर्व राष्ट्रपति डॉ शंकर दयाल शर्मा, आर. वेंकटरमन और प्रणब मुखर्जी के भी रह चुके दिल्ली के गंगाराम हॉस्पिटल के डॉक्टर एम. वाली के मुताबिक मटन और कोरोना वायरस से जुड़ी सभी बातें अफवाह है. न्यूज18 हिन्दी के साथ बातचीत में डॉ. वाली ने बताया कि कोरोना वायरस लंग्स पर अटैक करता है और यह वहीं रहता है. यह मसल्स में नहीं जाता है. इसलिए आमतौर पर चिकन-मटन का जो हिस्सा हम खाने में इस्तेमाल करते हैं, उसे बिना किसी डर के खाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें:
'महिलाओं के साथ होता था अत्याचार करते हैं नक्सली, इसलिए संगठन छोड़ की सरेंडर'

7 महीने का गर्भ लेकर भी नक्सल मोर्चे पर तैनात है ये महिला कमांडो, SP ने किया जज्बे को सलाम!  
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज