लाइव टीवी

जशपुर में हाथियों का उत्पात, ग्रामीणों को दूसरी जगह शिफ्ट कर रहा वन विभाग

Deepak Singh | News18 Chhattisgarh
Updated: January 15, 2020, 11:28 AM IST
जशपुर में हाथियों का उत्पात, ग्रामीणों को दूसरी जगह शिफ्ट कर रहा वन विभाग
जशपुर में हाथियों का उत्पात बढ़ते जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के जशपुर (Jashpur) जिले में हाथियों (Elephants) का उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा है.

  • Share this:
जशपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के जशपुर (Jashpur) जिले में हाथियों (Elephants) का उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा है. जशपुर के तपकरा वन परिक्षेत्र के ओडिशा (Odisha) सीमा के ग्रामीण इन दिनों हाथियों के आतंक से खासे परेशान हैं. लगभग एक सप्ताह से हाथियों का दल क्षेत्र में घूम रहा है. हाथियों का दल फसलों को तो नुकसान पहुंचा ही रहा है. इसके साथ ही ग्रामीणों के घरों को तोड़कर उनपर हमले भी कर रहा है. हाथियों के आतंक से ग्रामीण डरे हुए हैं और हाथियों की समस्या से निजात दिलाने मांग कर रहे हैं.

जशपुर (Jashpur) के तपकरा वन परिक्षेत्र के कई गांव ओडिशा सीमा से सटे हुए हैं. बताया जा रहा है कि ओडिशा से हाथियों का दल इन गांवों में पहुंचकर आए दिन उत्पात मचा रहा है. रात को अचानक हाथियों के गांव में घुसने से ग्रामीणों को रातों रात वन विभाग द्वारा सुरक्षित जगहों पर शिफ्ट भी किया जा रहा है. पिछले सप्ताह हाथियों के हमले में एक ग्रामीण की मौत भी हो चुकी है.

समस्या से निजात दिलाने की मांग
तपकरा के जिला पंचायत सदस्य अजय शर्मा का कहना है कि हाथियों का दल आये दिन लोगों के घरों और फसलों को नुकसान पहुंचा रहा है. जल्द ही हाथियों की समस्या से निजात दिलाने की मांग शासन व प्रशासन से की गई है. जशपुर के डीएफओ जाधव श्रीकृष्ण का कहना है कि ग्रामीणों को गांव में शराब नहीं बनाने और धान रखे कमरे में नहीं सोने की सलाह दी जा रही है. वन अमला हाथियों पर लगातार निगरानी रखा हुआ है और हाथियों को गांव से दूर रखने की कोशिश की जा रही है.

ये भी पढ़ें:
Exclusive: नक्सलियों का दावा- चुनाव में खलल डालने 97 KG बारूद से बीजापुर में CRPF पर किया था हमला! 

CAA पर बवाल के बीच छत्तीसगढ़ पहुंचा बांग्लादेशी घुसपैठिया, पुलिस ने पकड़ा 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जशपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 11:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर