लाइव टीवी

अच्छी पहल: एक दिन की सैलेरी से हर महीने बच्चों को पौष्टिक खाना खिलाता है ये अधिकारी

Deepak Singh | News18 Chhattisgarh
Updated: August 17, 2019, 1:36 PM IST
अच्छी पहल: एक दिन की सैलेरी से हर महीने बच्चों को पौष्टिक खाना खिलाता है ये अधिकारी
बीईओ मनीराम यादव अपने एक दिन के वेतन से महीने में एक बार किसी एक स्कूल के सभी बच्चों को पौष्टिक भोजन खिलाते है.

मनीराम बच्चों के साथ भोजन भी करते है साथ ही बच्चों से पढ़ाई व्यवस्था (Schooling) की जानकारी भी लेते है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल  (CM Bhupesh Baghel) ने 2 अक्टूबर से प्रदेश के कुपोषित बच्चों (Undernourished children) को पौष्टिक भोजन (Nutritious food) देने की घोषणा की है. लेकिन इससे पहले जशपुर (Jahspur) के एक बीईओ (BEO) ने इसकी शुरुआत कर दी है. बगीचा बीईओ मनीराम यादव ने अपने एक दिन के वेतन से महीने में एक बार किसी एक स्कूल(School) में सभी बच्चों को  पौष्टिक भोजन खिलाने की शुरूआत कर दी है. मनीराम बच्चों के साथ भोजन भी करते है साथ ही बच्चों से पढ़ाई व्यवस्था (Schooling) की जानकारी भी लेते है.

बच्चों से सीधी बातचीत का ये तरीका:

बगीचा(Bagichaa) विकासखण्ड के स्कूलों में कुपोषित बच्चों की संख्या कम करने और स्कूली बच्चों से सीधे संवाद करने के उद्देश्य से बगीचा विकासखण्ड के बीईओ मनीराम यादव (BEO Maniram Yadav) ने अपने एक दिन के वेतन से किसी एक स्कूल में सभी स्कूली बच्चों को पौष्टिक भोजन देने की शुरुआत की है. इसी क्रम में बगीचा के प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला चुंदापाठ के लगभग 200 बच्चों को पौष्टिक भोजन कराया गया. भोजन में मटर-पनीर के साथ दो प्रकार की सब्जी,पूड़ी,दाल-चावल,खीर, पापड़,सलाद, परोसा गया. थाली में भोजन परोसते ही बच्चों के चेहरे खिल गए.

chhattisgarh, jashpur, nutritious food , nutritious food to children, nutritious food serving scheme for children, utritious food serving scheme of chhattisgarh government, chhattisgarh government food scheme, malnutrition, food and safety act, food for all, Malnutrition,Malnutrition in chhattisgarh, Ministry of Consumer Affairs, Food and Public Distribution, खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग, छत्तीसगढ़, जशपुर, बच्चों को पौष्टिक खाना , छत्तीसगढ़ सरकार देगी बच्चों को पौष्टिक खाना  
साथ ही बीईओ मनीराम बच्चों से उनकी परेशानी भी पूछते है.


बच्चों से पूछते है उनकी समस्या:

बीईओ मनीराम यादव बच्चों के साथ जमीन (Ground) पर बैठकर भोजन भी करते और उनसे स्कूल एवं पढ़ाई संबंधी बातचीत भी की. इस दौरान बच्चों ने बीईओ को पढ़ाई के साथ अन्य परेशानियां भी बीईओ को बताईं, जिसका बीईओ ने जल्द निराकरण करने का आश्वासन भी दिया. जशपुर जिले के दूर-दराज के क्षेत्रों में पौष्टिक भोजन के अभाव में कुपोषण (Malnutrition) का प्रभाव अक्सर देखने को मिलता है. बीईओ की इस पहल से निश्चित ही कुपोषित बच्चों की संख्या कमी आएगी. बहरहाल प्रदेश सरकार द्वारा पौष्टिक भोजन देने की घोषणा के पहले ही बीईओ के द्वारा अपने वेतन से कुपोषण के खिलाफ मुहिम शुरू करने की पहल की हर तरफ प्रशंसा हो रही है.

ये भी पढ़ें: सरकार के बाद अब निगम ने बनाई एक्सप्रेस-वे की जांच टीम, 3 दिन में देगी रिपोर्ट 

पिता से झगड़ा करने पर दादी ने किया मना, पोते से कुल्हाड़ी मारकर की दी हत्या

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जशपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 17, 2019, 1:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर