बड़ी लापरवाही: खुले आसमान के नीचे गाड़ी की रौशनी में ही कर डाला पोस्टमार्टम

जशपुर जिले के कोतबा में देर शाम अस्पताल पहुंचे डॉक्टर ने वाहन की रोशनी में खुले आसमान के नीचे वाहन की रोशनी में शव का पोस्टमार्टम कर दिया.

News18 Chhattisgarh
Updated: July 22, 2019, 11:18 AM IST
News18 Chhattisgarh
Updated: July 22, 2019, 11:18 AM IST
छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में घायल पहाड़ी कोरवा को एम्बुलेंस नहीं मिलने की वजह से 10 किलोमीटर कंधे पर लादकर अस्पताल पहुंचाने के मामले के दो दिनों बाद ही स्वास्थ्य विभाग की एक और बड़ी लापरवाही सामने आई है. दुर्घटना में मृत युवक का डॉक्टर ने खुले आसमान के नीचे टॉर्च और चारपहिया वाहन की रोशनी में जमीन पर ही पोस्टमार्टम कर दिया.

मामला जशपुर जिले के कोतबा का है, जहां ट्रैक्टर से दबकर 18 वर्षीय युवक भोगेन्द्र साय की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. शव को पोस्टमार्टम के लिए दोपहर 2 बजे दूसरे ट्रैक्टर की ट्राली में लाद कर कोतबा नगर पंचायत स्थित पोस्टमार्टम हाउस पहुंचाया गया. उसकी सूचना प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कोतबा के प्रभारी को दी गई.

पोस्टमार्टम स्थल पर डॉक्टर पुलिसकर्मी के साथ रिपोर्ट साझा करते


उन्होंने कोतबा में स्वीपर नहीं होने का हवाला देते हुए पोस्टमार्टम करने में असमर्थता जाहिर की. जिसके बाद 2:30 बजे कोतबा चौकी पुलिस ने पत्थलगांव के बीएमओ को जानकारी देकर पोस्टमार्टम कराने का आग्रह किया. जानकारी मिलते ही बीएमओ ने पत्थलगांव में पदस्थ स्वीपर को कोतबा के लिए भेजा और डॉक्टर को पीएम करने का निर्देश दिया. जिसके बाद डॉक्टर शाम 7.45 बजे पीएम करने पहुंचे और टार्च और चार पहिया वाहन की रोशनी में खुले आसमान के नीचे युवक का पोस्टमार्टम कर दिया. डॉक्टर के देर से आने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वे निजी काम से घर गए हुए थे जिसकी वजह से आने में लेट हुई है.

(रिपोर्ट- दीपक)

ये भी पढ़ें-

500 रुपए लेकर 15 मिनट में बनाकर दे रहा था फर्जी आधार कार्ड
Loading...

जवानों को नुकसान पहुंचाने नक्सली लगा रहे है पुतला बम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जशपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 22, 2019, 10:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...