जशपुर महिलाओं की नसबंदी में लापरवाही

जशपुर अस्पताल में महिलाओं को इस तरह जमीन पर सुलाया गया है.
जशपुर अस्पताल में महिलाओं को इस तरह जमीन पर सुलाया गया है.

छत्तीसगढ़ के नंबर वन अस्पताल का तमगा पाने वाला अस्पताल में ही महिलाओ की जान से खिलवाड़ हो रहा है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के नंबर वन अस्पताल का तमगा पाने वाला अस्पताल में ही महिलाओ की जान से खिलवाड़ हो रहा है. जशपुर जिला अस्पताल में महिलाओं की नसबंदी तो हो रही है, लेकिन बेहद लापरवाही के साथ. नसबंदी करवाने आई महिलाओ को जमीन पर लिटाकर इंजेक्शन लगाया जा रहा है.

जशपुर के जिला अस्पताल को हाल ही में सीएम डॉ. रमन सिंह ने कायाकल्प राज्य स्तरीय पुरस्कार के तहत प्रथम पुरस्कार से पुरस्कृत किया है. इस अस्पताल को 50 लाख रुपये इनाम के तौर पर दिए गए हैं. लेकिन इस अस्पताल की अन्दर की तस्वीर बिलासपुर अस्पताल से कुछ अलग नहीं दिख रही है.

बिलासपुर में नसबंदी के बाद हुई मौतों के दो साल बाद यहां अब महिलाओं की नसबंदी में तेजी लाई गई है. ऑपरेशन थियेटर में डॉक्टरों की टीम बड़ी सतर्कता और स्वच्छता के साथ इन महिलाओं की नसबंदी तो कर रहे है, लेकिन नसबंदी के पहले दूर-दराज से आई हितग्राही महिलाओं को जमीन सुलाया गया है.



जिला अस्पताल जशुपर के सीएमएचओ आर एल तिवारी का दावा है कि अस्पताल में नसबंदी को लेकर पूरी सावधानी बरती जा रही है. किसी प्रकार की शिकायत आने पर उसे दूर किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज