छत्तीसगढ़ अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन का एक दिवसीय हड़ताल
Jashpur News in Hindi

छत्तीसगढ़ अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन का एक दिवसीय हड़ताल
छत्तीसगढ़ अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन का एक दिवसीय हड़ताल

आज सभी शासकीय कार्यालयों में लिपिकों की अनुपस्थिति से सारे कार्य पूरी तरह से ठप हो गए हैं. इस दौरान जो भी लोग आ रहे हैं उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ रहा है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में अपनी 11 सूत्री मांगों को लेकर अधिकारी और कर्मचारी फेडरेशन आज एक दिवसीय हड़ताल पर हैं. ये वही मांग हैं जो बीजेपी ने साल 2013 के चुनावी घोषणा पत्र में शामिल कर लोगों से पूरा करने का वादा किया था. इसी क्रम में आज यह हड़ताल जिला मुख्यालय समेत सभी तहसील मुख्यालयों में आयोजित किया गया है. वहीं हड़ताल से कार्यालयों में कामकाज बुरी तरह प्रभावित हो रहा है. हड़ताल की वजह से कई कार्यालयों के ताले तक नहीं खुले हैं.

हड़ताली लिपिक संघ के अध्यक्ष उमेश प्रधान ने कहा कि साल 2013 में बीजेपी ने जो घोषणा पत्र जारी किया था, उन मांगों को अभी तक पूरा नहीं किया गया है. इसी क्रम में आज उन्हें धरणा प्रदर्शन का कार्यक्रम रखा है.

स्थानीय नागरिक रविन्द्र कुमार ने कहा कि आज सभी शासकीय कार्यालयों में लिपिकों की अनुपस्थिति से सारे कार्य पूरी तरह से ठप हो गए हैं. इस दौरान जो भी लोग आ रहे हैं उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ रहा है.



इस बीच सुबह से रुक रुक कर हो रही बारिश से हड़ताली अधिकारी और कर्मचारी धीरे धीरे रणजीता स्टेडियम के पास जमा हो रहे हैं. वे बीजेपी सरकार को उनके घोषणा पत्र की याद दिलाएंगे. वहीं हड़ताल को देखते हुए जिले की कलेक्टर समेत आला अधिकारी भी आज दौरे पर हैं. कर्मचारी नेताओं ने बताया कि दोपहर 3 बजे कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन सौंपेंगे. हालांकि ज्ञापन देने से पहले रैली निकाली जाएगी.
अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन के हड़ताल पर जाने से शासकीय कार्य ठप पड़ गया है. लोग कार्यालय आकर खाली हाथ लौट रहे हैं. वहीं कई कार्यालयों के ताले तक नहीं खुले हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज