Home /News /chhattisgarh /

PM नरेंद्र मोदी के इस ड्रीम प्रोजेक्ट में सेंध लगाने की कोशिश, दो ठग गिरफ्तार

PM नरेंद्र मोदी के इस ड्रीम प्रोजेक्ट में सेंध लगाने की कोशिश, दो ठग गिरफ्तार

फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पत्थलगांव इलाके का ये पूरा मामला है. फिलहाल पुलिस (Police) इस मामले की जांच कर रही है.

जशपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के जशपुर (Jashpur) जिले में फर्जी प्रधानमंत्री आवास (Pradhan Mantri Awas Yojana) अधिकारी बनकर हितग्राहियों से ठगी (Fraud) की कोशिश कर रहे दो बदमाशों को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया है. बताया जा रहा है कि ठगी के इरादे से ये बदमाश अपने साथ स्कैनर लेकर गांव आए थे. यहां ये आरोपी गांव वालों से आधार कार्ड (Aadhar Card) और फिंगरप्रिंट (Finger Print) लेकर बैंक खाते की जानकारी ले रहे थे. बदमाश बैंक खाते (Bank Account) से रकम निकालने की फिराक में थे. लेकिन कुछ गांव वालों ने इनकी ये संदिग्ध गतिविधि को देखा और दोनों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. पत्थलगांव इलाके का ये पूरा मामला है. फिलहाल पुलिस (Police) इस मामले की जांच कर रही है.

खाते से रकम निकालने की फिराक में थे बदमाश

मिली जानकारी के मुताबिक पत्थलगांव इलाके में कुछ दिनों से फर्जी प्रधानमंत्री आवास योजना अधिकारी बनकर गांव में घूम रहे कुछ लोगों की शिकायत जनपद और थाने में की गई थी. इसी दौरान ठगी के इरादे से दो ठग ग्राम पंगसूआ पहुंचे जहां दोनों ने ग्रामीणों को बताया कि वे पीएम आवास निर्माण अधिकारी हैं और वह ग्रामीणों के आधार कार्ड और फिंगर प्रिंट चेक करने आए हैं.

ग्रामीणों को हुआ शक

ग्रामीणों को उन दोनों पर शक हुआ और उन्होंने इसकी जानकारी सरपंच और सचिव को दी. इसके बाद सचिव ने जनपद सीईओ से इन ठगों के बारे में जानकारी लिया. तब पता चला कि विभाग ने किसी अधिकारी को नहीं भेजा है. तब इसकी जानकारी थाने में दी गई. सूचना मिलने पर पत्थलगांव पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों ठगों से फर्जी आईडी और फिंगर प्रिंट मशीन बरामद किया. आरोपियों को हिरासत में लेकर फिलहाल पुलिस उनसे पूछताछ की. पूछताछ के दौरान दोनों ठगों ने अब तक 2 लोगों के खाते से पैसा ट्रांसफर करने की बात कबूली है. साथ ही दोनों ने अपना नाम संतोष पटेल और जितेंद्र बताया है. पुलिस दोनों ठगों पर कार्रवाई कर रही है.

ये भी पढ़ें: 

रायपुर एयरपोर्ट का हो सकता है निजीकरण, एयरपोर्ट अथॉरिटी ने केंद्र से की सिफारिश! 

  निकाय चुनाव की तैयारी: कांग्रेस घोषणा पत्र कमेटी तय, 4 को हो सकता है नामों का ऐलान 

बस्तर पर कांग्रेस का खास फोकस, ये आदिवासी विधायक बनेंगे विधानसभा के अगले उपाध्यक्ष 

 

Tags: Aadhar card, Bank fraud, Banking fraud, Chhattisgarh news, Fraud, Jashpur news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर