Home /News /chhattisgarh /

जॉनसन एंड जॉनसन के पाउडर से हुआ कैंसर, 490 करोड़ मुआवजा देगी कंपनी

जॉनसन एंड जॉनसन के पाउडर से हुआ कैंसर, 490 करोड़ मुआवजा देगी कंपनी

अगर आप अपने बच्‍चों को जॉनसन एंड जॉनसन के पाउडर लगाते हें तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है. जांच में साबित हुआ है कि जॉनसन के पाउडर से महिला कैंसर जैसी बीमारी से ग्रसित हो गई.

अगर आप अपने बच्‍चों को जॉनसन एंड जॉनसन के पाउडर लगाते हें तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है. जांच में साबित हुआ है कि जॉनसन के पाउडर से महिला कैंसर जैसी बीमारी से ग्रसित हो गई.

अगर आप अपने बच्‍चों को जॉनसन एंड जॉनसन के पाउडर लगाते हें तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है. जांच में साबित हुआ है कि जॉनसन के पाउडर से महिला कैंसर जैसी बीमारी से ग्रसित हो गई.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    अगर आप अपने बच्‍चों को जॉनसन एंड जॉनसन के पाउडर लगाते हें तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है. जांच में साबित हुआ है कि जॉनसन के पाउडर से महिला कैंसर जैसी बीमारी से ग्रसित हो गई. आरोप साबित होने के बाद जॉननस एंड जॉनसन कंपनी को पीड़ित परिवार को 72 मिलियन डॉलर (करीब 490 करोड़ रुपए) मुआवजे के तौर पर देने का आदेश दिया गया है.

    अमेरिका के मिसूरी में एक स्‍टेट जूरी ने जॉनसन एंड जॉनसन को आदेश दिया है कि वह पीड़ित परिवार को जल्‍द मुआवजा दे. आरोप था कि कंपनी के टेल्‍कम पाउडर उत्‍पादों के कारण महिला अंडाशय के कैंसर का शिकार हुई.

    अलाबामा की रहने वाली जैकलीन फॉक्‍स ने जूरी के समक्ष वाद दायर कर कहा था कि वह कंपनी के बेबी पाउडर और महिला स्‍वच्छता उत्‍पाद शॉवर टू शॉवर का 35 साल से लगातार उपयोग कर रही थी.

    इन उत्‍पादों का प्रयोग जारी रखने के बीच वह अंडाशय के (ओवेरियन) कैंसर की शिकार हो गई. पिछले साल अक्‍टूबर में 62 साल की उम्र में इस महिला की मौत हो गई. फॉक्‍स के वकील का कहना था कि कंपनी को इस खतरे की जानकारी कई दशकों से है, लेकिन वह इसे जनता और नियामकों से छुपाती रही है.

    जूरी के सदस्‍यों ने लंबे विचार-विमर्श के बाद कहा कि कंपनी के आतंरिक दस्‍तावेजों से हमें यह फैसला लेने में सहायता मिली. यह साफ है कि कंपनी कहीं न कहीं कुछ तो छुपा रही है.

    जूरी प्रमुख क्रिस्‍टा स्मिथ का कहना था कि कंपनी को अपने उत्‍पादों पर इनके उपयोग के खतरे से संबंधित एक चेतावनी लेबल लगाना चाहिए था, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया.

    इसी तरह के 60 और केस कंपनी पर अन्‍य लोगों ने लगा रखे हैं, जिनमें टैल्‍कम पाउडर के उपयाग और कैंसर के बीच संबंध बताते हुए मुआवजे की मांग की गई है.

    दूसरी ओर, जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी ने वादी के दावों से असहमति जताते हुए कहा है कि हमारे लिए अपने ग्राहकों के स्‍वास्‍थ्‍य और उनकी सुरक्षा से बढ़कर कुछ भी नहीं है. इस फैसले ने हमें निराश किया है.

    कंपनी प्रवक्‍ता कैरोल गुडरिक ने एक बयान में कहा कि हमें वादी के परिवार से सहानुभूति है, लेकिन हम इस बात पर दृढ़ हैं कि कॉस्‍मेटिक टैल्‍क कई दशकों से वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित है. कंपनी ने इस आदेश के खिलाफ अपील करने के संबंध में फिलहाल कोई फैसला नहीं किया है.

    मालूम हो कि अमेरिकन कैंसर सोसायटी से जुड़े कुछ वैज्ञानिकों का मानना है कि महिला स्‍वच्‍छता के लिए उपयोग किए जाने वाले टैल्‍कम पाउडर के कण उनके जननांगों से अंडाशय तक पहुंचकर उसे नुकसान पहुंचाते हैं.

    दूसरी ओर कुछ वैज्ञानिकों का मानना है कि इस संबंध में अब तक कोई विस्तृत अध्‍ययन नहीं हुआ है. हालांकि 1999 में अमेरिकन कैंसर सोसायटी की सलाह के बाद अधिकांश कंपनियों ने ऐसे उत्‍पादों में टैल्‍क के स्‍थान पर कॉर्न स्‍टार्च का प्रयोग प्रारंभ कर दिया है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर