5 सालों से यहां पंचायत के रंगमंच में संचालित हो रहा है अस्पताल
Kanker News in Hindi

5 सालों से यहां पंचायत के रंगमंच में संचालित हो रहा है अस्पताल
5 सालों से पंचायत के रंगमंच में संचालित हो रहा है प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र

कांकेर जिले को बने 19 साल होने के बावजूद यहां कई जगहों पर अब तक एक अस्पताल नहीं बना है. ऐसे में कहीं पंचायत के रंगमंच में तो कहीं किराए के मकान में अस्पताल संचालित हो रहा है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ में राज्य सरकार के किए गए सारे दावे खोखले साबित हो गए हैं. दरअसल, कांकेर जिले के निर्माण हुए करीब 19 साल हो गए हैं, बावजूद इसके जिले में कई जगहों में अब तक एक अस्पताल नहीं बना है. ऐसे में कहीं पंचायत के रंगमंच में तो कहीं किराए के मकान में अस्पताल संचालित हो रहा है.

इधर, संबंधित मामले में पूछे जाने पर स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि आवंटन नहीं मिलने से अस्पताल का निर्माण नहीं हो सका है. आपको बता दें कि कांकेर के विकासखंड चारामा मुख्यालय से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्राम कुर्रुटोला में 6 बिस्तरों का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र  पिछले 5 वर्षों से पंचायत के रंग मंच में संचालित हो रहा है.

मिली जानकारी के मुताबिक साल 2012 में यहां दर्जनभर गांवों में स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए सरकार ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोला था. हालांकि इस दौरान विभाग के पास निजी भवन नहीं होने के कारण तब से 2 कमरे में ही 6 बिस्तर वाले अस्पताल को संचालित किया जा रहा है.



लिहाजा, इस कारण यहां न तो किसी मरीज को भर्ती कराया जा सकता है और ना ही किसी प्रसव पीड़ा की माताओं को यहां सही ढंग इलाज हो सकता है. अव्यवस्था का आलम यह है कि यहां शौचालय से लेकर पीने का पानी तक उपलब्ध नहीं है.
यहां के स्वास्थ्यकर्मी शाम के 4 बजे अस्पताल बंद कर घर चले जाते हैं क्योंकि यहां उनके रहने के लिए कोई आवास नहीं है. वहीं स्वास्थ्य अधिकारी की मानें तो जिले में 234 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में से 228 में भवन बना है. वहीं अब तक 6 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में निजी भवन नहीं होने से किराए के भवन में ही अस्पताल संचालित हो रहा है. उनका कहना है कि राशि आवंटन के अभाव में अब तक यहां बाकी के 6 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भवन नहीं बन पाया हैं.

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading