मोबाइल रिचार्ज करने से शुरू हुआ प्रेम हत्या पर खत्म, दो महीने बाद इस हालत में मिली लाश
Kanker News in Hindi

मोबाइल रिचार्ज करने से शुरू हुआ प्रेम हत्या पर खत्म, दो महीने बाद इस हालत में मिली लाश
Demo Pic

मोबाइल फोन रिचार्ज दुकान से परवान चढ़े इश्क की कीमत एक युवती को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी है.

  • Share this:
मोबाइल फोन रिचार्ज करने वाले से दोस्ती और उसके बाद प्रेम सम्बंध से शादी को लेकर ऊपजे विवाद हत्या की दहलीज तक पहुच गया. इस मामले में अब दो जिलों की पुलिस अलग-अलग तरीके से कार्रवाई कर रही है. वहीं पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर तहसीलदार की मौजूदगी के दौरान दो माह पूराने कब्र को खोदकर युवती की लाश निकाल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

मूल रूप से कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर थाना क्षेत्र में रहने वाली युवती सीएफ के जवान रामप्रकाश के बुलावे पर रायपुर तो पहुंची मगर उससे पहले उसने अपने घर से किसी बर्थडे पार्टी का जिक्र कर शाम को घर लौटने की बात कही थी. युवती के शाम तक घर नही पहुंचने पर उसके परिजनों ने उसकी खोजबीन की. मगर परिजनों को कुछ हासिल नहीं हो सका, जिसके बाद युवती के परिजनों ने भानुप्रतापपुर थाने में युवती की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई.

मिली जानकारी के मुताबिक यह पूरा मामला दक्षिण बस्तर के किरन्दुल से जुड़ा है. मोबाइल फोन रिचार्ज दुकान से परवान चढ़े इश्क की कीमत एक युवती को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी है. किरन्दुल में अपनी बहन के यहां रहकर मोबाइल दुकान में काम करने वाली युवती का सीएएफ (छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल) के 16 E वाहिनी किरन्दुल में तैनात जवान रामप्रकाश कुजूर के बीच प्रेम सम्बंध स्थापित हो गया था. जिसके बाद बात आगे बढ़ी और इसी बीच जवान का ट्रांसफर हो गया.



इसी दौरान जवान ने शादी का झांसा देकर युवती से शारीरिक सम्बन्ध भी बनाये जिसके चलते 24 वर्षीया युवती गर्भवती हो गई और जवान रामप्रताप पर शादी करने का दबाव बनाने लगी. देखते ही देखते समय बीतता गया और तब तक युवती के पेट मे 5 से 6 माह का बच्चा पलने लगा. सीएएफ जवान रामप्रताप ने युवती से छुटकारा पाने उसे रायपुर बुलाया और युवती भी 5 फरवरी को अपने घर भानुप्रतापपुर से रायपुर पहुंची और दोनों कुछ दिन बिलासपुर में साथ रहे.
पुलिस के विवेचना अधिकारी मनोज कुमार की मानें तो इस दौरान मूलतः सरगुजा जिले के रघुनाथपुर के ग्राम चठिरमा के रहने वाले जवान रामप्रताप कुजूर छुट्टी पर था और युवती के जिद करने पर वह उसे अम्बिकापुर ले आया. जहां 13 व 14 फरवरी के दरम्यान जवान ने युवती की हत्या की और उसके शव को सूरजपुर जिले के जयनगर थाना क्षेत्र के ग्राम ठाकुरपुर के टोनही नाले के समीप गाड़ दिया.

बहरहाल कांकेर पुलिस ने इस अंधे कत्ल की गुत्थी को बड़ी सफलता हासिल की है. जहां युवती को तलाश करते-करते किरन्दुल पहुंची जहां पुलिस को युवती के प्रेम प्रसंग की बात पता चली और पुलिसिया जांच प्रेम प्रसंग की बिंदु पर केंद्रित हो गई. पुलिस कॉल डिटेल के जरिये आरोपी रामप्रताप कुजूर तक पहुंची और उसे गिरफ्तार किया गया. जिसके बाद बुधवार को कांकेर पुलिस की टीम युवती के परिजनों और रामप्रताप के साथ सरगुजा पहुंची और रामप्रताप कुजूर की निशानदेही पर से तहसीलदार की मौजूदगी में युवती की 2 महीने पुरानी लाश कब्र से बाहर निकली गई.

ये भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव 2019: नतीजे आने में लग सकते हैं 2-3 दिन, रुझान आने में भी होगी दोपहर

ये भी पढ़ें: चुनाव परिणाम के बाद क्या अपनी इज्जत बचा पाएगी EVM?
ये भी पढ़ें: गुहाराम अजगले: जांजगीर में खुद के साथ बीजेपी की साख बचाने की चुनौती 
अपने WhatsApp पर पाएं लोकसभा चुनाव के लाइव अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज