फोर्स को नुकसान पहुंचाने नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, फंस गया ग्रामीण, मौत

स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पर नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में शांति व्यवस्था भंग करने की पूरी कोशिश की.

Jiwanand Haldar | News18 Chhattisgarh
Updated: August 16, 2019, 11:55 AM IST
फोर्स को नुकसान पहुंचाने नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, फंस गया ग्रामीण, मौत
स्वतंत्रता दिवस पर नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ में शांति व्यवस्था भंग करने की पूरी कोशिश की.
Jiwanand Haldar
Jiwanand Haldar | News18 Chhattisgarh
Updated: August 16, 2019, 11:55 AM IST
स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) पर नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में शांति व्यवस्था भंग करने की पूरी कोशिश की. इसके तहत ही कांकेर (Kanker) जिले के आमाबेड़ा में नक्सलियों (Naxalite) ने आईईडी ब्लास्ट (IED Blast) किया. सुरक्षा बल के जवानों को नुकसान पुहंचाने के लिए किए गए इस आईईडी ब्लास्ट की चपेट में गाय चराने गया एक ग्रामाीण आ गया. इसके चलते उसकी मौके पर ही मौत हो गई. घटना बीते गुरुवार के शाम की बताई जा रही है.

कांकेर (Kanker) में नक्सलियों ने स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के दिन फिर जवानों को निशाना बनाने की कोशिश की. नक्सलियों ने आमाबेड़ा (Amabeda) थाना क्षेत्र के उसेली गांव में आईईडी ब्लास्ट किया. घटना के बाद मौके पर पहुंचने सुरक्षा बल के जवानों ने एक जिंदा बम (Bomb) भी बरामद किया. कांकेर के एएसपी कीर्तन राठौर ने घटना की पुष्टि की है. एएसपी राठौर ने बताया कि आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आने से वहां गाय चरा रहे शोभ सिंह सलाम की मौके पर ही मौत हो गई है. घटना स्थल से बरामद जिंदा बम को डिफ्यूज कर दिया गया है.

सर्चिंग बढ़ाई गई
एएसपी राठौर ने बताया कि आमाबेड़ा थाना क्षेत्र के उसेली गांव में नक्सलियों ने जवानों को निशाना बनाने की कोशिश की. इसके लिए प्रेशर आईईडी बम प्लांट किया गया था. घटना के बाद जवानों ने इलाके में सर्चिंग बढ़ा दी गई है. संदिग्धों से पूछताछ की गई है. सुरक्षा बल के जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए नक्सली इस तरह की कायराना करतूत करते रहते हैं.

सुकमा में भी आईईडी ब्लास्ट
स्वतंत्रता दिवस पर छत्तीसगढ़ के घोर नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के कशालपाढ़ में भी नक्सलियों ने सीआरपीएफ के जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए आईईडी ब्लास्ट किए. खूंखार नक्सली हिड़मा के गढ़ कशालपाढ़ में सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन ने स्वतंत्रता दिवस पर देश का तिरंगा झंडा शान से लहराया. यहां पहुंचने के लिए सुरक्षा बल के इन जवानों को अपनी जान की बाजी भी लगानी पड़ी. नक्सलियों ने उन्हें रोकने की साजिश कर रखी थी. इसके तहत ही दो सीरियल ब्लास्ट किए गए. लेकिन जवानों के जज्बों के आगे वो नाकाम हो गई.

ये भी पढ़ें: 26 जवानों की हत्या में शामिल 'नक्सली' ने पुलिस को बनाया भाई, कही ये बात... 
Loading...

ये भी पढ़ें: खूंखार नक्सली हिड़मा के गढ़ में CRPF ने लहराया तिरंगा, यहां लोगों ने पहली बार देखा देश का झंडा!  
First published: August 16, 2019, 11:55 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...