अजीत जोगी की बहू ऋचा के चुनाव लड़ने से हाई प्रोफाइल हुई ये सीट
Kawardha News in Hindi

अजीत जोगी की बहू ऋचा के चुनाव लड़ने से हाई प्रोफाइल हुई ये सीट
अजीत जोगी की बहू ऋचा जोगी.

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के सुप्रीमो अजीत जोगी की बहू ऋचा जोगी बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की टिकट पर चुनावी मैदान में हैं.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के सुप्रीमो अजीत जोगी की बहू ऋचा जोगी बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की टिकट पर चुनावी मैदान में हैं. ऋचा जोगी जांजगीर चांपा जिले की अकलतार सीट से चुनाव लड़ रही हैं. अजीत जोगी के परिवार के सदस्य के चुनाव लड़ने के कारण ये सीट हाई प्रोफाइल हो गई है. मतदान के बाद इस सीट पर सभी की निगाहें टिकी हैं.

(ये भी पढ़ें: कांटे की टक्कर वाली ये सीटें तय करेंगी छत्तीसगढ़ में किसकी बनेगी सरकार!)

अजीत जोगी की पार्टी ने इस विधानसभा चुनाव के लिए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) व सीपीआई से गठबंधन किया है. इसमें 55 सीटों पर जोगी की पार्टी, 33 पर बसपा और 2 पर सीपीआई के प्रत्याशी चुनाव लड़े. चुनाव से पहले 19 अक्टूबर को ऋचा जोगी ने बसपा की सदस्यता ली. बसपा ने बाद में उन्हें अकलतरा सीट से प्रत्याशी बना दिया. चुनावी शोरगुल में इस सीट पर प्रचार करने के लिए खुद बसपा सुप्रीमो मायावती पहुंची थीं. यहां से उन्होंने ऋचा जोगी के लिए वोट मांगा.



यह भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ः ओबीसी वोट से होगा रमन सिंह के भाग्य का फैसला!
बता दें कि बसपा के पकड़ वाली इस सीट से अजीत जोगी की बहू ऋचा जोगी के खिलाफ भाजपा ने बसपा के बागी सौरभ सिंह को चुनाव लड़वाया है. पिछली बार के विजेता कांग्रेस के चुन्नी साहू इस बार भी मैदान में हैं. तीनों के बीच त्रिकोणीय मुकाबला बताया जा रहा है.

जानिए रिचा जोगी के बारे में:
ऋचा, अजीत जोगी के बेटे अमित जोगी की पत्नी हैं और राजनीति में काफी सक्रिय हैं. पिछले दो साल से ऋचा लगातार कार्यकर्ताओं, जनता और विशेषकर महिलाओं के बीच सीधा संपर्क बनाने में जुटी हैं. सार्वजनिक बैठकों में ऋचा के पहुंचते ही महिलाओं में उनके साथ सेल्फी लेने की होड़ सी मच जाती है. वो कार्यकर्ताओं की समस्याएं सुनती हैं और मौके पर उनका समाधान करने की कोशिश करती हैं. ऋचा जोगी पहली बार चुनावी मैदान में हैं.

ये भी पढ़ें: जशपुर में स्‍ट्रांग रूम के बाहर EVM की पहरेदारी कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ता की मौत 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज