Assembly Banner 2021

छत्तीसगढ़: यहां तो 'गांधीजी' हो गए भ्रष्टाचार का शिकार, BJP ने गंभीर आरोप लगाकर नहीं चलने दिया सदन

छत्तीसगढ़ विधानसभा में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा लगाने में हुए भ्रष्टाचार के मामले पर हंगामा हो गया. भाजपा ने आरोप लगाया कि पुरानी मूर्ति को ही नए तरीके से रंग पोतकर मंत्रालय में लगा दिया.

छत्तीसगढ़ विधानसभा में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा लगाने में हुए भ्रष्टाचार के मामले पर हंगामा हो गया. भाजपा ने आरोप लगाया कि पुरानी मूर्ति को ही नए तरीके से रंग पोतकर मंत्रालय में लगा दिया.

छत्तीसगढ़ विधानसभा में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा लगाने में हुए भ्रष्टाचार के मामले पर हंगामा हो गया. भाजपा ने आरोप लगाया कि पुरानी मूर्ति को ही नए तरीके से रंग पोतकर मंत्रालय में लगा दिया. इस पर संदन में हंगामे के बीच मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगा गया.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ विधानसभा में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा लगाने में हुए भ्रष्टाचार के मामले पर हंगामा हो गया. सदन में विपक्ष की तरफ से आरोप लगाया गया कि पुरानी मूर्ति को ही नए तरीके से रंग- रोबन करके उसे नया बता दिया गया. इस मूर्ति को मंत्रालय में लगा दिया गया है. इस पर भाजपा ने कड़ा विरोध दर्ज किया और स्थगन प्रस्ताव देकर चर्चा की मांग की. बीजेपी ने आरोप लगाया कि मंत्रालय में गांधी जी की पुरानी मूर्ति लगाने में भंडार क्रय नियमों का पालन नहीं किया गया. यह शर्मनाक है. मुख्यमंत्री को इस पर इस्तीफा दे देना चाहिए.

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति को लेकर छत्तीसगढ़ की राजनीति गर्म हो गई है. भाजपा ने सरकार को सदन में ही घेर लिया. अजय चंद्राकर ने कहा सरकार लहर गिनकर पैसा कमाना चाहती है. राष्ट्रपिता की मूर्ति में भ्रष्टाचार किया गया. नारायण चंदेल ने कहा, यह अनोखे तरीके से भ्रष्टाचार करने का नायाब नमूना है. प्रशासन के केंद्र मंत्रालय में भ्रष्टाचार किया गया है. बृजमोहन अग्रवाल ने कहा नैतिकता के आधार पर मुख्यमंत्री को इसकी जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दे देना चाहिए. नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि गांधी जी मूर्ति लगाने में भी भ्रष्टाचार होना पराकाष्ठा है. यह घोर भ्रष्टचार ही नहीं नियम और संविधान विरुद्ध है.

बृजमोहन अग्रवाल ने कहा गांधी जी की मूर्ति के नाम पर कई प्रकार की औपचारिकताएं पूर्ण करनी होती है, लेकिन फिर भी पुरानी मूर्ति को लगा देना गम्भीर मामला है. यह मामला इतना गंभीर है कि मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की पूरे देश में बदनामी हो रही है. मूर्ति बनाने के 100 तरीके की प्रक्रिया होती है. उन्होंने कहा कि 'गुलाबी गांधी' के फेर में महात्मा गांधी की मूर्ति स्थापना में भ्रष्टाचार किया गया और मुख्यमंत्री के हाथों उसका लोकार्पण भी करवा दिया.



शिवरतन शर्मा ने कहा गांधी जी की मूर्ति पर भ्रष्टाचार हुआ है इसलिए मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए. इसको लेकर भाजपा ने सदन में स्थगन प्रस्ताव रखा, लेकिन आसंदी ने स्थगन अस्वीकार कर दिया. प्रस्ताव पर चर्चा चार्चा नहीं की गई, जिसके बाद बीजेपी विधायकों ने सदन में हंगामा कर दिया. इस पर बीजेपी विधायकों ने जमकर नारेबाजी की और फिर सदन 5 मिनट के लिए स्थगित कर दिया गया. गांधी की मूर्ति पर भ्रष्टाचार के आरोप में राजनीति का पारा गर्म रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज