अपना शहर चुनें

States

कवर्धा के निजी अस्पताल पर लापरवाही का आरोप, बच्ची की मौत

प्रतिकात्मक तस्वीर
प्रतिकात्मक तस्वीर

कवर्धा में एक निजी अपस्ताल प्रबंधन पर मनमानी व लापरवाही करने का आरोप लगा है. आरापे है कि अस्पताल प्रबंधन की मनमानी के कारण एक मासूम बच्ची की जान चली गई.

  • Share this:
कवर्धा में एक निजी अपस्ताल प्रबंधन पर मनमानी व लापरवाही करने का आरोप लगा है. आरापे है कि अस्पताल प्रबंधन की मनमानी के कारण एक मासूम बच्ची की जान चली गई. कवर्धा के गोराज चिल्ड्रन हॉस्पिटल में चार दिनों से मासूम बच्ची भर्ती थी. परिजन स्वास्थ्य में सुधार न होने के चलते दूसरी जगह ले जाना चाह रहे थे, लेकिन अस्पताल प्रबंधन छोड़ नहीं रहा था.

आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन छुट्टी दे भी रहा था तो बिना स्मार्ट कार्ड के, जिस पर परिजन तैयार नहीं थे. इसी बीच मंगलवार को पांचवे दिन सुबह-सुबह बच्ची की मौत हो गई. मौत से परिजन बिफर गए. अस्पताल में जमकर हंगामा किया. लापरवाही सामने आने पर अस्पताल प्रबंधन कन्नी काटने में लगा है. मृतक बच्ची के पित नारद ने बताया कि बच्ची को जब लाया गया तो वह बेहोशी की हालत में थी. उसे सांस लेने में तकलीफ थी. चार दिनों तक जब बच्ची के स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं होता देख परिजन उसे दूसरी जगह ले जाना चाह रहे थे.

मृतिका के परिजनों ने आरोप लगाया है कि अस्पताल प्रबंधन की मनमानी के चलते ये घटना हुई है। पूरा खेल स्मार्ट कार्ड का है. सात दिन से पहले स्मार्ट कार्ड नहीं दे सकने की बात प्रबंधन ने कही थी. गरीब परिस्थिति होने के चलते वे दूसरे जगह बिना स्मार्ट कार्ड के नहीं ले जा पा रहे थे. अगर डॉक्टर से नहीं संभल रहा था तो उसे छुट्टी दे देना चाहिए, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. वो भी इसलिए कि पहले छुट्टी दे देने पर पैसा नहीं मिलेगा. परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है. ताकि और बच्चों की जान के साथ खिलवाड़ न हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज