पत्नी से छुटकारा चाहता था पति, दोस्त से करवाया रेप, दोनों गिरफ्तार

दोस्त से अपनी पत्नी का रेप कराने के बाद आरोपी पति ने 50 रुपए के स्टाम्प पर उससे तलाक ले लिया. फिर दोनों की शादी 50 रुपए के स्टाम्प पर करा दी. पीड़िता और उसके परिजनों को जब इस साजिश का पता चला तो उन्होंने थाने में एफआईआर कराई.

News18 Chhattisgarh
Updated: July 19, 2019, 8:37 AM IST
पत्नी से छुटकारा चाहता था पति, दोस्त से करवाया रेप, दोनों गिरफ्तार
छत्तीसगढ़ के कवर्धा में रिश्तों को कलंकित करने वाला एक शर्मना​क मामला सामने आया है.
News18 Chhattisgarh
Updated: July 19, 2019, 8:37 AM IST
छत्तीसगढ़ के कवर्धा में रिश्तों को कलंकित करने वाला शर्मना​क मामला सामने आया है. कवर्धा के कोतवाली थाना क्षेत्र में मामला दर्ज किया गया है. पीड़िता ने जिले के पुलिस कप्तान को अपनी आपबीती बताई. इसके बाद शुरुआती जांच की गई. फिर मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने मामले में आरोपी पीड़िता के पति और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है.

दैनिक भास्कर में छपी खबर के अनुसार पति-पत्नी के पवित्र संबंधों पर मिट्टी पलीद करने वाली यह शर्मनाक घटना है. कोतवाली थाना क्षेत्र में रेप का यह अजीबोगरीब मामला सामने आया है. जहां एक पति ने अपने दोस्त की मदद से पहले तो अपनी बीवी की आबरू लुटवा दी. फिर 50 रुपए के स्टाम्प पर तलाक लिया और उन दोनों की शादी भी 50 रुपए के स्टाम्प पर करा दी. पीड़िता और उसके परिजनों को जब इस साजिश का पता चला तो उन्होंने थाने में एफआईआर कराई.

ऐसे खुला सच
कवर्धा पुलिस ने आरोपियों को धारा 376, 120, 34 के तहत आरोपी पति और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं. आरोपी 19 वर्षीय सिंघनीपुरी का रहने वाला है. 40 दिन पहले ही पीड़िता से उसकी शादी हुई थी. पराई स्त्री से प्रेम संबंध के चलते वह पत्नी से छुटकारा पाना चाहता था. इसलिए अपने राजनांदगांव निवासी दोस्त की मदद ली. खास बात यह है कि विवाह के समय पीड़िता नाबालिग थी. वहीं आरोपी पति की उम्र 19 वर्ष है.

रेप के बाद छोड़ा मायके
इस विवाह ने महिला एवं बाल विकास विभाग की सक्रियता की पोल भी खोलकर रख दी है. दुष्कर्म के बाद आरोपी पति ने पीड़िता को मायके में छोड़ दिया. कुछ दिन बाद आरोपी कमलेश पीड़िता के मायके गया और स्टाम्प पर शादी का हवाला देकर उसे लेने आने की बात कही. तब साजिश सामने आई. सामाजिक बैठकें हुईं और आरोपी ने कलंकित होना बता कर साथ रखने से इंकार कर दिया. तब थाने में रिपोर्ट की.

आधार कार्ड बनवाने का झांसा
Loading...

घटना बीते 27 जून की है. आधार कार्ड बनवाने का झांसा देकर आरोपी अपनी पत्नी को लेकर कवर्धा पहुंचा. आरोपी दोस्त भी साथ था. तहसील ऑफिस में दो स्टाम्प पर पीड़िता के दस्तखत लिए. एक स्टाम्प तलाक संबंधी और दूसरा आरोपी कमलेश के साथ विवाह का था. नोटरी बाद लक्ष्मी लॉज में रुके. कुछ देर बाद आरोपी पति अपने दोस्त के साथ बीवी को छोड़कर चला गया. इस दौरान आरोपी कमलेश ने उसके साथ दुष्कर्म किया.

पति ने रचि साजिश
पीड़िता ने पुलिस को बताया कि 40 दिन पहले ही हमारी शादी हुई थी. मैं 11वीं तक पढ़ी हूं. शादी के 10-15 दिन तक तो सब ठीक-ठाक चला, लेकिन पति का व्यवहार बदल गया. धमकाते रहते थे. एक दिन उन्होंने स्मार्ट कार्ड बनवाने कवर्धा चलने की बात की. हम बाइक से निकले, लेकिन उन्होंने मुझे लोहारा से बस में बैठा दिया. इस बस में मेरे पति के दोस्त थे. बस में बैठाने के बाद मुझे कवर्धा में मिलने कहा. इसके बाद हम कवर्धा के काली गार्डन पहुंचे.

3 घंटे बाद मेरे पति वहां आए और वीडियो बनाने लगे. फिर मुझे धमकाया. दूसरे दिन मुझे कवर्धा लेकर आया. जान से मारने की धमकी देकर दस्तखत कराए और होटल में ले गए. वहां थोड़ी देर में आता हूं, कह चले गए और वापस नहीं आए. इस दौरान उनके दोस्त ने दुष्कर्म किया. दोनों ने मिलकर साजिश रची और मुझे जानबूझकर कमरे में छोड़ा. इसके बाद मैं अपने मायके चली गई. मैंने वहां घटना की जानकारी दी. इधर, मेरे पति के दोस्त मुझे साथ ले जाने का दबाव बनाने लगे तो थाने पहुंचे.

ये भी पढ़ें: धमतरी: जेल की दीवार फांदकर फरार हुआ कैदी, तीन प्रहरी निलंबित 

जशपुर में स्वास्थ्य व्यवस्था की खुली पोल, घायल को कंधे में ढोकर पहुंचाया गया अस्पताल
First published: July 19, 2019, 8:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...