छत्तीसगढ़: स्वास्थ्य मंत्री बोले- ऑक्सीजन की कमी से मौत की जानकारी न केंद्र ने मांगी, न हमने दी

छत्तीसगढ़: ऑक्सीजन की कमी से मौत होेने की जानकारी हमने केंद्र को नहीं दी: टीएस सिंह देव

Chhattisgarh News: ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत न होने के मामले में अब राजनीति गरमा गई है. टीएस सिंह देव का कहना है कि केंद्र की सरकार, केंद्र के स्वास्थ्य मंत्री या विभागीय अधिकारियों ने कभी राज्यों से पूछा ही नहीं कि ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत हुई है या नहीं.

  • Share this:
रायपुर. ऑक्सीजन (oxygen) की कमी से एक भी मौत न होने के मामले में अब राजनीति गरमा गई है. पूरे मामले को लेकर छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) सरकार में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने केंद्र सरकार पर पलटवार किया है. टीएस सिंह देव (TS singh dev) का कहना है कि केंद्र की सरकार, केंद्र के स्वास्थ्य मंत्री या विभागीय अधिकारियों ने कभी राज्यों से पूछा ही नहीं कि ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत हुई है या नहीं हुई है. हमने मौतों को लेकर कोई भी डाटा केंद्र सरकार को नहीं दिया है.

छत्तीसगढ़ सरकार के स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंह देव का कहना है कि देश के जो केंद्र शासित प्रदेश हैं या जो राज्य हैं जहां पर ऑक्सीजन सर प्लस में था तो कहीं ऑक्सीजन की कमी थी तो कहीं ऑक्सीजन सामान्य थी. ऑक्सीजन की कमी देश भर में न हो ऐसी बात हो ही नहीं सकती है. सबको पता है कि ऑक्सीजन की भयानक कमी हम सभी ने देखी है. ऑक्सीजन की कमी के मामले में केंद्र सरकार ने राज्यों सरकारों से डाटा लिये बिना ही बयान दिया है. राज्य में ऑक्सीजन की कमी से मृत्यु हुई है या नहीं हुई है यह अलग मामला है. हमने इस तरह का कोई भी डाटा केंद्र सरकार को नहीं दिया है.

आईसीएमआर का डाटा हर रोज होता है अपडेट

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव का कहना है कि आईसीएमआर का जो डेटा है वह हर रोज अपडेट किया जाता है. एक वह जो कि कोरोना से ग्रसित लोगों की मौत हुई है और दूसरा कोविड व्यक्ति. प्रोफार्मा में करीब 20 कॉलम होते हैं कि किन किन कारणों से आप बीमारियों से पहले से ग्रसित थे. इसमें हाइपरटेंशन डायबिटीज कैंसर जैसी बीमारियां शामिल थीं. उन से ग्रसित होते रहते कोरोना हुआ और मौत हो गई, यह जानकारी मांगी गई थी. विस्तृत प्रोफार्मा में ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत का डाटा वाला कॉलम प्रोफार्मा में नहीं था.

ऑक्सीजन की कमी से मौत मेरी जानकारी में नहीं

केंद्र सरकार की रिपोर्ट से बिल्कुल अलग मंत्री टीएस सिंह देव का कहना है कि छत्तीसगढ़ में ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत हुई है या नहीं मेरी जानकारी में नहीं है. हालांकि केंद्र सरकार ने हमसे पूछे बिना ही इस बात का जवाब राज्यसभा में दिया है. छत्तीसगढ़ में ऑक्सीजन की कमी से मौत हुई है या नहीं इसको लेकर ऑडिट किया जाएगा. देश भर में महामारी के वक्त में ऑक्सीजन की कमी थी सबको पता है और महामारी के दौरान ऑक्सीजन की कमी से मौतें जरूर हुई हैं.

यह पूरी तरह से निजता का हनन है

पेगासस जासूसी कांड पर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव का कहना है कि यह पूरी तरह से निजता का हनन है. सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया गया है जिसमें सरकारों की सहमति होती है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.