कोंडागांव में कबाड़ के जुगाड़ से छात्र ने बनाया सेनेटाइजर टनल, लोगों को आया पसंद

कोंडागांव में छात्र ने सेनेटाइजर टनल बनाया.
कोंडागांव में छात्र ने सेनेटाइजर टनल बनाया.

Fight Against COVID-19: छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के एक दसवीं कक्षा के छात्र ने कबाड़ से जुगाड़ कर अपने घर के गेट पर सेनेटाइजर टनल बनाया है.

  • Share this:
कोंडागांव. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचने के लिए लाखों रुपये खर्च किये जा रहे हैं. हालांकि, इससे बचने का सबसे आसान तरीका है लोगों से दूरी बनाकर रहना और अपने आप को सेनेटाइज रखना. छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के एक दसवीं कक्षा के छात्र ने कबाड़ से जुगाड़ कर अपने घर के गेट पर सेनेटाइजर टनल बनाया है.

कोंडागांव के सरगीपाल निवासी आयुष श्रीवास्तव ने अपने घर और आम लोगों को राहत और सेनेटाइजर सुविधा देने के लिए घर में पड़े कबाड़ और प्लास्टिक पाईप के जरिये सेनेटाइजर टनल बनाया है. साथ ही घर के गेट के सामने एक पोस्टर लगा कर लोगों से सात सेकेंड टनल में खड़े रहकर सेनेटाइज होने का अनुरोध किया है. मोहल्ले वासी आते-जाते इस टनल के नीचे खड़े होते हैं. वहीं, गश्त में निकले पुलिस जवान भी रुक कर अपने आप को सेनेटाइज करते हैं.

जुगाड़ से बनाया
आयुष श्रीवास्तव ने बताया कि घर मे पड़े प्लास्टिक के पाइप के जरिये फ्रेम बनाया और पुराने कबाड़ में पड़े कार के वाईपर मोटर और पाईप के जरिये स्प्रे तैयार किया. जिससे सेनेटाइजर वाटर लोगों के ऊपर फव्वारे से स्प्रे होकर गिरता है. इस सेनेटाईजर को बनाने में उसकी दोनों बहनों ने मदद की और इसे दो घंटे में तैयार किया. इसको बनाने की लागत पर आयुष ने बताया की ये महज एक से दो हजार रुपये में तैयार किया है और सबसे बड़ी बात है यह बैटरी और बिजली दोनों से आपरेट होता है.
वारियर्स और राहगीरों की कर रहा मदद


आपदा की इस घड़ी में कुछ राज्यों में कोरोना वारियर्स पर लगातार हमले हो रहे हैं. वहीं, छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के छात्र ने वारियर्स और आम राहगीरों की मदद करने के लिए अपने घर के बाहर सेनेटाइजर टनल बनाया है. टनल बनाने के पीछे की वजह बताते हुए आयुष श्रीवास्तव ने कहा कि सेनेटाइजर की कमी है. पुलिस के जवान, अस्पताल और पालिका के कर्मी  छोटा सा स्प्रे बाटल लेकर लगातार गश्त करते हुए घूम रहे हैं.

पीसीसी अध्यक्ष हुए सेनेटाइज
शहर में जुगाड़ से बने सेनेटाईजर टनल की जानकारी मिलने पर पीसीसी अध्यक्ष और स्थानीय विधायक मोहन मरकाम भी सेनेटाईजर टनल को देखने पहुचे. सेनेटाईजर टनल  के नीचे खड़े होकर अपने आप सेनेटाईज किया. पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने आयुष को जुगाड़ से बने सेनेटाईजर टनल और उसकी भावना के लिए शाबासी देते हुए कहा की इस तरहके सेनेटाईजर टनल का शहर में कुछ जगहों पर इम्प्लीमेंट किया जाएगा.

ये भी पढ़ें:
कोविड-19: एक 16 साल के लड़के ने 21 लोगों को किया सं​क्रमित, बढ़ाई छत्तीसगढ़ सरकार की चिंता

मानसिक रूप से बीमार को तबलीगी जमात का सदस्य बताकर दी गालियां, FIR दर्ज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज