नारायणपुर के जंगलों से पकड़ा दुर्लभ जीव पैंगोलिन, बेचने से पहले ही तस्कर गिरफ्तार

झारखंड के गांव में पाया गया दुर्लभ प्र​जाति का पैंगोलिन.
झारखंड के गांव में पाया गया दुर्लभ प्र​जाति का पैंगोलिन.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की कोंडागांव (Kondagaon) सिटी कोतवाली पुलिस (Kotawali Police) ने नारायणपुर के जंगल से पैंगोलिन लाकर बेचने के फिराक में घूम रहे दो ग्रामीणों को गिरफ्तार (Arrest) किया है.

  • Share this:
कोंडागांव. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की कोंडागांव (Kondagaon) सिटी कोतवाली पुलिस (Kotawali Police) ने नारायणपुर के जंगल से पैंगोलिन लाकर बेचने के फिराक में घूम रहे दो ग्रामीणों को गिरफ्तार (Arrest) किया है. दूसरी बार पैंगोलिन के तस्कर गिरफ्तार हुए हैं. बरामद किया गया पेंगोलिन काफी महंगे दामों में बिकता है. बरामद की किए गए पैंगोलीन की बाजार में कीमत करीब 15 लाख रुपये आंकी जा रही है. पैंगोलीन की तस्करी की तार दूसरे राज्यों से भी जुड़ होने की आशंका है.

कोंडागांव के सिटी कोतवाली टीआई राजेन्द्र मंडावी ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि दुर्लभ जीव पेंगोलीन लेकर कुछ लोग बेचने की फिराक में हैं. पुलिस की टीम ने मंगउराम कोर्राम और तेजराम बघेल को पेंगोलीन के साथ गिरफ्तार किया है. आरोपियों के पास से पेंगोलीन के साथ ही एक बाइक भी जब्त की गई है.

इस धारा के तहत जुर्म दर्ज
टीआई राजेन्द्र मंडावी ने बताया कि दोनों आरोपियों पर वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम की 1972 धारा 9, 39ख, 50अ, 50ब, 51 के तहत दर्ज किया है. पेंगोलिन को देखने पहुची वेटनरी विभाग की असिस्टेंट सर्जन आरती मरसकोले ने बताया कि पेंगोलीन की बाजार में प्रति किलोग्राम कीमत एक लाख रुपये है. इसकी मांग मेडिसिन के लिए विदेशो में सबसे ज्यादा है. जब्त पेंगोलीन करीब 15 किलोग्राम वजनी है. पुलिस मामले में आरोपियों से पूछताछ कर इस मामले से जुड़े अन्य लोगों की गिरफ्तारी भी कर सकती है.
ये भी पढ़ें:


छात्रा को ड्रग्स खिलाकर करता था रेप, प्रेग्नेंट होने पर कराया अबॉर्शन, आरोपी टीचर ने किया सरेंडर

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने की CM भूपेश बघेल की तारीफ, बेटियों के लिए कही ये बड़ी बात
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज