कोरबा के 70 प्रतिशत एटीएम में कैश नहीं, पैसे के लिए भटक रहे लोग

कोरबा में एक बार फिर नोट बंदी के दौरान दिखा नजारा दिखाई दे रहा है. कैश की इतनी किल्लत से लोग चिल चिलाती धूप में परेशान हो रहे हैं. जिले के सभी एटीएम खाली हो गए हैं. अब सीडीएम मशीन में जहां कैश जमा करता होता है,तुरंत उसके पीछे निकालने वालों की लाइन लग जाती है.

Asif | News18 Chhattisgarh
Updated: April 16, 2018, 11:39 PM IST
कोरबा के 70 प्रतिशत एटीएम में कैश नहीं, पैसे के लिए भटक रहे लोग
कोरबा में स्टेट बैंक का ठप पड़ा एटीएम
Asif | News18 Chhattisgarh
Updated: April 16, 2018, 11:39 PM IST
कोरबा में एक बार फिर नोट बंदी के दौरान दिखा नजारा दिखाई दे रहा है. कैश की इतनी किल्लत से लोग चील चिलाती धूप में परेशान हो रहे हैं. जिले के सभी एटीएम खाली हो गए हैं. अब लोग सीडीएम मशीन में जमा करने वालों का इंतजार करते हैं. जैसे ही कोई कैश जमा करता है उसके पीछे निकालने वालों की लाइन लग जाती है.

शहर में पिछले पांच दिन से 95 फीसदी एटीएम के शटर डाउन पड़े हैं. न तो चेस्ट में करेंसी आ रही है न बैंकों में काउंटर से कैश जमा करने वाले पहुंच रहे हैं. रविवार को तो पूरे शहर में महज एक ही एटीएम काम कर रहा था. सभी बैंकों की हालत कैश को लेकर खराब है. लीड बैंक भी इसकी कमी पूरा करने में असक्षम साबित हो रहा है.

बैंक प्रबंधन शहर के किसी एक एटीएम कभी निहारिका तो कभी टीपीनगर या फिर किसी दिन पावर हाउस या फिर सीतामढ़ी क्षेत्र में कैश अपलोड कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं. इससे लोग पैसे निकालने को भटक रहे हैं. एसबीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक प्रभास बोस ने बताया की कोरबा में कैश की किल्लत ज्यादा है. 60-70 प्रतिशत एटीएम डाउन हैं.

एटीएम कैश की किल्लत पूरे छत्तीसगढ़ के साथ मध्यप्रदेश में भी लंबे समय से है. आरबीआई से कैश की आपूर्ति बैंको में नहीं हो रही है कैश की किल्लत से निपटने के लिए कैश लेस ट्रांजेक्शन करने की बात कही जा रही है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर